इंदौर युवक की हत्या मामला- दोस्त की EX-GIRLFRIEND ने साथियों के साथ मिलकर उतारा मौत के घाट

Avatar
Published on -

INDORE  NEWS : इंदौर में मंगलवार हुई युवक की हत्या के मामलें में आरोपियों के सरेंडर के बाद मर्डर का खुलासा हो गया है, इस हत्या में शामिल एक युवती ने थाने में सरेंडर किया जिसके बाद उसने थाने में ही अन्य आरोपियों को फोन कर सरेंडर करने के लिए समझाया जिसके बाद बाकी के आरोपी भी थाने पहुँच गए, इस युवती ने अपने 3 साथियों की मदद से हमला किया था। हमला करने के बाद चारों आरोपी फरार हो गए थे। उनकी निशानदेही पर हत्या के लिए इस्तेमाल चाकू भी बरामद कर लिया गया है। एक अन्य फरार आरोपी को पुलिस ने उज्जैन से हिरासत में लिया है।

यह था घटनाक्रम 

मृतक का नाम मोनू उर्फ प्रभास पवार है। वह अपने दोस्तों के साथ कार से महाकाल दर्शन के लिए उज्जैन जा रहा था। इसी दौरान होटल मैरियट के सामने अचानक कुछ युवकों ने उनकी कार रुकवाई और फिर हमला कर दिया, हमले में मोनू के सीने में चाकू लगा और उसकी मौत हो गई।  घटना के बाद स्थानीय पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। विजय नगर पुलिस ने बताया कि चारों आरोपी ग्रे रंग की एक्टिवा पर थे, जिस पर नंबर प्लेट नहीं थी।

युवती ने बताई वजह 

पुलिस के अनुसार आरोपी युवती लालाराम नगर के गायत्री अपार्टमेंट में अपनी एक दोस्त के साथ किराए से रहती है। वह कार में ही सवार टीटू की गर्लफ्रेंड रह चुकी है। युवती ने प्रारंभिक पूछताछ में बताया कि वो टीटू से एकतरफा प्यार करती है। टीटू ने जब उससे रिश्ता तोड़ दिया तो वह बदला लेने पर उतारू हो गई। अपने मकसद को अंजाम देने के लिए उसने छोटू और शोभित को अपने साथ मिलाया। इनको पता चला कि टीटू अपने दोस्तों- मोनू (अब मृतक), रचित, विशाल ठाकुर और एक अन्य के साथ देर रात महाकाल का दर्शन करने जा रहा है। उन्होंने इसी दौरान टीटू पर हमला करने की बात तय की।

करती थी टीटू का पीछा 
युवती टीटू के हामी न भने से इस कदर नाराज थी की उसने  टीटू का पीछा करने और उसे मारने का प्लान बना लिया था, उसे जानकारी मिली की टीटू  देर रात उज्जैन जा रहा है तो मैरियट होटल के सामने पहुंच गई, इसी दौरान टीटू  अपने दोस्तों के साथ कार से उस सड़क से गुजरा तो युवती ने इन्हे हाथ देकर रोका, वह अपने दो दोस्तों के साथ कार के पास आई और अंदर बैठे विशाल से हाथ मिलाया। इसी बीच उसके साथ आए युवकों ने अंदर बैठे रचित पर हमला किया। वह बच गया तो खिड़की की तरफ बैठे मोनू को चाकू मार दिया। चाकू उसके सीने में लगा। प्रभास उर्फ मोनू पिता श्याम सिंह पंवार इंदौर के ​​​​​​साकेत नगर स्थित ईश्वर अपार्टमेंट में रहता ​था।​ वह ​​​​​​निजी कॉलेज में B.Tech की पढ़ाई कर रहा था। पुलिस का कहना है कि मोनू मूल रूप से सीहोर का रहने वाला था। कार में उसके साथ टीटू, विशाल ठाकुर, रचित और एक अन्य दोस्त था। सभी ने रात को ही महाकाल दर्शन का प्लान बनाया था। उसी के लिए इंदौर से उज्जैन निकले थे और यह वारदात हो गई।


About Author
Avatar

Sushma Bhardwaj

Other Latest News