नरोत्तम मिश्रा ने साधा दिग्विजय सिंह पर निशाना, कोरोना को लेकर कही ये बात

पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा द्वारा राज्यपाल के खिलाफ अमर्यादित बयान देने के बाद अब दिग्विजय सिंह ने राज्यपाल को लेकर एक ट्वीट किया है

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश के गृहमंत्री और इंदौर जिले के प्रभारी मंत्री नरोत्तम मिश्रा (Narottam Mishra) बुधवार को इंदौर पहुंचे। स्वामी विवेकानंद की जयंती के अवसर पर राष्ट्रीय युवा दिवस के मौके पर इंदौर के जाल सभागृह में आयोजित रोजगार दिवस के अवसर पर आयोजित रोजगार मेले में शामिल होने के पहले वे रेसीडेंसी पहुंचे। जहां उन्होंने बीजेपी नेताओं व कार्यकर्ताओं से मिलने के बाद मीडिया से बातचीत की।

गृहमंत्री ने स्वामी विवेकानंद जयंती के अवसर पर कहा कि मध्य प्रदेश की सरकार (MP Government) सर्वांगीण विकास को ध्यान के रख काम कर रही है और सर्वे की रिपोर्ट में हमारी सरकार ने 40 हजार करोड़ से ज्यादा का निवेश इंफ्रास्ट्रक्चर में किया है। उन्होंने कहा कि सर्वाधिक रोजगार मध्यप्रदेश सरकार ने दिए है, उसी कड़ी में आज स्वामी विवेकानंद की जयंती राष्ट्रीय युवा दिवस पर 5 लाख से अधिक युवाओं को रोजगार देने के परिपत्र दिए जा रहे है। इसकी शुरुआत मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल से, मैं इंदौर से और अन्य मंत्री गण अपने प्रभार के जिलों में कार्यक्रम के तहत अधिकार पत्र सौंप कर कर रहे हैं। कोरोना गाइडलाइन का पालन करना है इसलिए कुछ युवाओं के अलावा बाकि लोगों को वर्चुअल और घर पर जाकर अधिकार पत्र दिए जाएंगे।

ये भी पढें – रोजगार पर राजनीति : कांग्रेस ने जताया विरोध, मनाया बेरोजगार दिवस

गृह मंत्री ने दी कोरोना अपडेट की जानकारी  

कोरोना की वर्तमान स्थिति (MP Corona Update) की जानकारी देते हुए गृह मंत्री ने बताया कि कोरोना के 3 हजार 589 नए केस सामने आए है जबकि ठीक होकर अपने घरों तक जाने वाले 540 लोग हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में संक्रमण की दर बढ़कर 4.56 फीसदी हो गई है जबकि रिकवरी दर 96.73 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटे में 79 हजार 670 टेस्ट समूचे मध्यप्रदेश में किये गए है और वर्तमान में एक्टिव केस 14027 सम्पूर्ण मध्यप्रदेश में है। पूरी सावधानी और शिद्दत के साथ में सरकार कोरोना की तीसरी लहर को काबू में करने में लगी हुई है।

ये भी पढ़ें – MP Weather : मध्य प्रदेश के 8 जिलों में बारिश की संभावना, इन जिलों में शीतलहर के आसार

दिग्गी और कांग्रेस पर उठाए सवाल

इधर, राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) द्वारा आज किये गए ट्वीट-” क्या राज्यपाल किसी एक पार्टी के प्रचारक के रूप में कार्य कर सकता है? क्या ऐसे राज्यपाल महोदय से विपक्ष कोई उम्मीद कर सकता है? के सवाल पर गृहमंत्री ने कहा कि संवैधानिक संस्थाओं का अपमान करना कांग्रेस का स्वभाव है और दिग्विजयसिंह हमेशा से आदिवासियों के विरोधी रहे हैं ऐसा मैं नहीं कह रहा बल्कि इनकी सरकार के वनमंत्री उमंग सिंघार ने कहा था और जब वो सीएम थे तब उनकी डिप्टी सीएम जमना देवी ने कहा था कि मैं दिग्विजयसिंह की भट्टी में जल रही हूं। वहीं उस समय मुख्यमंत्री बनने वाले शिवभान सिंह सोलंकी ने कहा था जिन्हें सीएम बनने नहीं दिया गया। इससे अंदाजा लगाओ कि हमारे महामहिम राज्यपाल आदिवासी वर्ग से आते हैं तो स्वभाविक रूप से वो इस तरह की बात करते हैं। उन्होंने जो ट्वीट किया है जिसमें दुपट्टा महामहिम डाले हुए हैं ये वो दुपट्टा है जो हेलीकॉप्टर से उतरते समय किसी कार्यकर्ता ने डाल दिया था।  इस तरह के ट्वीट निंदनीय व चिंताजनक है।

ये भी पढ़ें – Rajasthan Rapid Antigen Covid Test: राजस्थान में कोविड-19 की रैपिड एंटीजन जांच मात्र 50 रुपए में

पंचायत चुनाव पर गृह मंत्री ने कही ये बात 

इधर, पंचायत चुनाव टलने को लेकर कांग्रेस द्वारा उठाये जा रहे सवाल के जबाव में गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि हम कुछ भी करेंगे तो कांग्रेस कमियां निकालेगी ही सही, वो इतना नहीं बता रहे हैं कि हम आरक्षण समेत चुनाव में गए तो कांग्रेस कोर्ट में क्यों गई चुनाव में क्यों नहीं ? कांग्रेस को चाहिए था कि वो चुनाव में आती लेकिन लगातार जितने उपचुनाव हुए उन सबमें कांग्रेस हारी तो वो हर चुनाव से अब डरने लगी है। बुजुर्ग नेतृत्व है इस कारण से वो चुनाव में नहीं आना चाहते इसलिए कमियां निकालते हैं।