साम्प्रदायिक तनाव ना बढ़े इसलिये देश के राजनेताओं से सिख समुदाय ने की ये अपील

इंदौर। आकाश धौलपुरे।

पाकिस्तान में स्थित गुरुद्वारे ननकाना साहिब में हुई घटना के बात देश के सिख समुदाय में काफी रोष है और ये ही वजह है देशभर में घटना का विरोध किया जा रहा है। इंदौर में सोमवार को बड़ी संख्या में सिख समुदाय के लोग कमिश्नर ऑफिस पहुंचे जहां उन्होंने पीएम मोदी व गृहमंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के नाम ज्ञापन सौंपा। गौरतलब है कि 3 जनवरी को पाकिस्तान के गुरुद्वारा ननकाना साहिब पर इमरान चिश्ती नामक युवक ने कुछ लोगों के साथ मिलकर एवं बच्चों को साथ लेकर उग्र प्रदर्शन कर पत्थरबाजी की थी और कई आपत्तिजनक नारे भी लगाए थे जिसमें कहा गया था कि पाकिस्तान से सिखों को निकाला जाए एवं गुरुद्वारा ननकाना साहिब का नाम बदलकर गुलाम अली मुस्तफा रखा जाए।  विश्वभर में सिख – मुसलमान के बीच घृणा फैलाने की कोशिश को सिख व मुस्लिमों को लड़ाने का कृत्य माना जा रहा है। इसके बाद से भारत के सिख समुदाय व मुस्लिम समुदाय में एक रोष व्याप्त है जिसके बाद आज सिख समुदाय व मुस्लिम समुदाय के कई लोग कमिश्नर कार्यालय पर एकत्रित होकर कमिश्नर को ज्ञापन सौंपा। सिख समुदाय के मंजीत सिंह भाटिया ने बताया कि समूचे विश्व मे घटना के बाद साम्प्रदायिक तनाव सोशल मीडिया के जरिये फैलाया जा रहा है और इसी के चलते सभी समुदायों के लोगो ने देशक के पीएम, गृहमंत्री और रक्षा मंत्री से ज्ञापन के माध्यम से संज्ञान लेने की अपील की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here