हमलें के विरोध में राज्य अधिवक्ता परिषद की चेतावनी, आरोपियों की नहीं हुई गिरफ़्तारी तो करेगे काम बंद

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। इंदौर में अधिवक्ता अर्जुन ठाकुर पर हुए हमलें के विरोध में मध्य प्रदेश राज्य अधिवक्ता परिषद ने फैसला लिया है कि अगर पुलिस सात दिन के अंदर गिरफ्तार नही करती है तो पूरे मध्य प्रदेश के सभी न्यायालयों में वकील काम नही करेंगे, परिषद ने इंदौर पुलिस महानिदेशक को ज्ञापन सौंपा।

भिंड में आधा दर्जन पुलिस आरक्षक निलंबित, यह है वजह !

अधिवक्ता परिषद ने साफ कर दिया है कि अधिवक्ता अर्जुन ठाकुर पर हिस्ट्रीशीटर बदमाशों ने हमला किया है, और इन बदमाशों के साथ शराब व्यवसायी ए के सिंह और पिंटू भाटिया शामिल है। इन सभी की 7 दिन के अंदर गिरफ्तारी की मांग की है। वही वकीलों का आरोप है कि पुलिस जानबूझकर आरोपियों को गिरफ्तार नही कर रही है,जबकि आरोपी खुलेआम शहर में घूम रहे है, वही राजीनामे की झूठी खबरें फैला रहे है। गौरतलब है, की अर्जुन ठाकुर पर 19 अगस्त को हमला किया गया था। घर लौटते समय आरोपियों ने अर्जुन ठाकुर को गोली मार दी थी।

हमलें के विरोध में राज्य अधिवक्ता परिषद की चेतावनी, आरोपियों की नहीं हुई गिरफ़्तारी तो करेगे काम बंद