इंदौर: लॉकडाउन के बीच तुलसी सिलावट की बैठक, पुलिस अधिकारियों को दिए ये निर्देश

इंदौर

इंदौर, आकाश धोलपुरे। कोरोना (Coronavirus) के कारण इंदौर (Indore) में लगाये गए लॉकडाउन (Lockdown 2021) के दौरान जमीनी स्तर पर पुलिस (Indore Police) का फीडबैक लेने और  आ रही समस्याओं के समाधान के लिए ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) समर्थक और प्रदेश के कैबिनेट मंत्री  तुलसी सिलावट ने रविवार को पुलिस कंट्रोल रूम (Police Control Room) पहुंचकर अधिकारियों की बैठक ली। इस दौरान उन्होंने लॉक डाउन के दौरान शहर में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति बेहतर और बरकरार रहे, इसके लिए पुलिस के आला अधिकारियों को मंत्री सिलावट ने विशेष दिशा निर्देश भी दिये।

यह भी पढ़े.. सड़क हादसे में 3 श्रमिकों की मौत, महाराष्ट्र से लॉकडाउन के चलते मप्र लौट रहे थे, टैक्टर क्षतिग्रस्त

दरअसल, बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मप्र सरकार (MP Government) ने क्राइसेस मैनेजमेंट ग्रुप की सलाह मानते हुए इंदौर में 19 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ाया है, क्योंकि इंदौर में लगातार कोरोना संक्रमण का खतरा बढ़ता ही जा रहा है। प्रदेश के कैबिनेट मंत्री तुलसी सिलावट (Cabinet Minister Tulsi Silavat) ने पुलिस कंट्रोल रूम पहुंचकर जिले के सभी आला पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक कर लॉकडाउन के दौरान लोगों की समस्या को लेकर और उसके समाधान के लिये अधिकारियों से चर्चा की।

वही उन्होंने अधिकारियो को निर्देश दिए कि  पुलिस की व्यवस्था ऐसी हो कि किसी भी आम आदमी को परेशानी का सामना ना करना पड़े ।साथ ही लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति भी बरकरार रहे। बैठक के बाद मीडिया से बात कर मंत्री तुलसी सिलावट ने बताया कि पिछले एक वर्ष 24 मार्च को लॉक डाउन लगा था उस समय से लेकर निरंतर पुलिस विभाग का अमला समर्पित भाव से अपनी और अपने परिवार की जान को जोखिम में डालकर आम जनता की सेवा और रक्षा कर रहा है।

यह भी पढ़े.. कृषि मंत्री समेत 2 विधायक कोरोना पॉजिटिव, संपर्क में आए नेताओं में हड़कंप

वही पुलिस को जमीनी स्तर पर काम करने में कोई समस्या आ रही है तो आला अधिकारियों से मैं सरकार की ओर ये जानने आया कि कोई दिक्कत आ रही हो तो वे उन्हें बताए। वही उन्होंने कहा पुलिस विभाग निरंतर 20 – 20 घण्टे काम कर रहा है और मैं उन्हें सलाम करता हूँ। वही मीडिया से बात कर सिलावट ने गरीबो को भरोसा दिलाया कि एक भी गरीब को लॉक डाउन के दौरान सरकार भूखा नही सोने देगी और सरकार गरीबो के अन्न के लिए सरकार पूरी व्यवस्था करेगी।