जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर में धान खरीदी का कार्य प्रारंभ हो चुका है और ऐसे में अमानक और अनैतिक स्थानों से जबलपुर में धान के आने का सिलसिला भी शुरू हो गया है। आज सूचना पर जबलपुर एसडीएम और तहसीलदार सहित पुलिस विभाग की टीम ने भेड़ाघाट के पास एक वेयरहाउस के पास दो ट्रकों से सेकड़ो क्विंटल धान जप्त किया, जिला प्रशासन की अचानक हुई इस कार्रवाई से अवैध धान संग्रहण कर्ताओं में हड़कंप मच गया है।

उत्तर प्रदेश से जबलपुर लाई गई थी धान

जानकारी के मुताबिक जबलपुर में समर्थन मूल्य में बेचने के लिए धान को दो बड़े ट्रकों में भरकर उत्तर प्रदेश से लाया गया था।आज ऐसे ही एसडीएम नमः शिवाय अरजरिया और तहसीलदार अनूप श्रीवास्तव को इसकी भनक लगी तो वह भेड़ाघाट  पुलिस के साथ मौके पर पहुंच गए, पुलिस प्रशासन की टीम को देखकर दोनों ही ट्रकों के चालक मौके से चाबी लेकर फरार हो गए।

कड़ी मशक्कत के बाद दोनों ट्रकों को लाया गया था थाने

दोनो ट्रकों में उत्तर प्रदेश से धान लाकर भेड़ाघाट के पास वेयरहाउस में रखने की तैयारी थी,सूचना पर जैसे ही पुलिस प्रशासन को टीम पहुँची तो  ट्रक चालक दोनों ट्रकों को छोड़कर भाग गए पर फरार होने से पहले चालक ने चाबी ट्रक से निकाल ली। किसी तरह कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस प्रशासन ने मेकेनिको की मदद से दोनो ट्रकों को भेड़ाघाट थाने में लाने में सफलता पाई।

दोनों ट्रकों में रखी धान की अनुमानित कीमत बताई जा रही है दस लाख

तहसीलदार अनूप श्रीवास्तव के मुताबिक उत्तर प्रदेश से 2 बड़े ट्रकों में भरकर जबलपुर लाई गई जिस धान को पुलिस प्रशासन द्वारा जप्त किया गया उसकी कीमत करीब 10 लाख बताई जा रही है, वही दोनों ही ट्रकों में करीब 600 क्विंटल धान भरी हुई थी।

पुलिस ने किया पंचनामा अब किया जाएगा ट्रक मालिकों को तलाश

तहसीलदार अनूप श्रीवास्तव ने दोनों ही ट्रकों का पंचनामा कर उन्हें भेड़ाघाट थाना पुलिस के सुपुर्द कर दिया है वहीं प्रशासन अब ट्रक मालिकों की तलाश करके यह जानकारी लेगा कि आखिर उत्तर प्रदेश से क्यों लाया गया था और इस धन को किसे बेचा जाना था।