पशु-पक्षियों के दानों में भी मिलावट, पुलिस ने पकड़ी नकली दानों की फैक्ट्री

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर में क्राइम ब्रांच ने शहपुरा में मुर्गियों के नकली दाने बनाने वाली फैक्ट्री पकड़ी है। शहपुरा के सहजपुर पौड़ी में जब शहपुरा पुलिस और क्राइम ब्रांच ने एक गोदाम में छापा मारा, तो टीम हैरान रह गई, फैक्टरी में मुर्गे-मुर्गियों को खिलाए जाने वाले दानों में अवैध रूप से मिलावट की जा रही थी। शारदा मिनरल्स नाम से संचालित गोदाम में बड़ी मात्रा में असली और नकली दानों का स्टॉक मिला है, नकली सामग्री सामनें आने के बाद पुलिस ने फैक्टरी को सील कर दिया है।

नही थम रहा पंजाब में सियासी बवाल, सिद्धू के इस्तीफ़े के बाद अब कैप्टन के अमित शाह से मिलने का कयास

फैक्टरी संचालक शुभाशीष सान्याल द्वारा यह कारखाना चलाया जा रहा था। क्राइम ब्रांच को मुखबिर से सूचना मिली थी की इस फैक्टरी में बने नकली दानें बाजार में बिकने के लिए आ रहे है, और शुभाशीष सान्याल नर्मदा जिलेटिन फैक्ट्री में तैयार ब्रांडेड कंपनियों के नाम से मुर्गियों को खिलाएं जाने वाले मिलावटी दाने बनाकर बेच रहा है। सूचना मिलते ही क्राइम ब्रांच और शहपुरा थाना पुलिस ने तत्काल टीम गठित कर फैक्टरी पर छापा मारा। जहां लगभग 1 हजार तैयार की गई दानें की बोरी और 500 से ज्यादा नर्मदा जिलेटिन फैक्ट्री के नाम की खाली प्रिंट की बोरियों सहित नकली खाद्य पदार्थ मिलाकर बनाने वाली सामग्री को जब्त किया है।

Punjab Politics: पंजाब में बड़ा सियासी बवाल, सिद्धू ने दिया अध्यक्ष पद से इस्तीफा

पुलिस ने जब जांच की तो पता चला कि शुभाशीष सान्याल लंबे समय से यह गोरखधंधा कर रहा है। वह भेड़ाघाट स्थित नर्मदा जिलेटिन फैक्ट्री से दाना खरीदता है और अपनी फैक्ट्री में नकली दाना मिलाकर बेचता है। यह मिलावटी दाना जबलपुर के साथ ही आसपास के जिलों और राज्यों में भी सप्लाई किया जाता है। बहरहाल पुलिस ने दाने के सेम्पल लेकर गोदाम को सील कर दिया है। सैंपल को अब जांच के लिए सागर लैब भेजा जा रहा है। सूचना मिलने पर पहुंचे नर्मदा जिलेटिन फैक्ट्री के अधिकारी भी सेम्पल की जांच कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि ओलिस को मौके पर लगभग 14 लाख 40 हजार रुपये का सामान मिला है। जिसकी जब्ती बनाई गई है। पुलिस ने फरार आरोपी शुभाशीष सान्याल के खिलाफ खाद्य सुरक्षा अधिनियम की विभिन्न धाराओं में अपराध दर्ज किया गया है।