यहां व्यापारियों ने की तीन दिन के लॉकडाउन की घोषणा, प्रशासन की अनुमति का इंतजार

जबलपुर,संदीप कुमार। प्रदेश की संस्कारधानी जबलपुर में रोजाना 200 से ज्यादा कोरोना के मरीज सामने आ रहे हैं। इसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की मृत्यु संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है। ऐसे में शहर में अब शहरवासियों के बीच कोरोना संक्रमण का डर सताने लगा है। कोरोना की चेन को तोड़ने के लिए जिले में पहले हर शनिवार और रविवार को टोटल लॉकडाउन रखा जाता था, लेकिन कुछ दिनों पहले ही इसे पूरी तरह से खोल दिया गया है, ऐसे में अब जबलपुर के व्यापारी संघ ने स्वेच्छा से तीन दिन तक दुकानें बंद रखने का फैसला लिया है।

जबलपुर के मुकादम गंज इलाके में कोरोना संक्रमण की चपेट में आने की वजह से पांच व्यापारियों की मृत्यु हो चुकी है। बाजार में 24 से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज हैं, इसी के मद्देनजर व्यापारियों ने तीन दिन बाजार बंद रखने की घोषणा की है। व्यापारियों का कहना है की वे जान की कीमत पर व्यापार नहीं करना चाहते हैं। भले ही सरकार ने बाजार को खोलने की अनुमति दे दी है, लेकिन इस घने बाजार में व्यापार करने के दौरान कोई भी कोरोना संक्रमण का शिकार हो सकता हैं, इसलिए उन्होंने स्वेच्छा से ही अपनी दुकानों को तीन दिनों के लिए बंद रखने का फैसला लिया है।

जानकारी के मुताबिक प्रशासन ने किसी भी तरह के बंद को अब तक कोई अनुमति नहीं दी है। व्यापारियों ने स्वेच्छा से बंद करने का फैसला लिया है, जो कि गैर कानूनी है। अब देखते हैं कि प्रशासन इम मामले में क्या कार्रवाई करता है।