सटोरिये को पकड़ने गई पुलिस पर हमला, भीड़ ने पुलिस पर किया पथराव

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर के छुई खदान बेलबाग इलाकें में सटोरिये को पकड़ने गई पुलिस पर ही हमला हो गया। सटोरिये ने अपने परिवार सहित पुलिस पर हमला बोल दिया। गनीमत रही कि मौके पर और बल बुला लिया गया, तो सटोरिया और भीड़ पुलिस पर हावी नही हो सकी। सटोरिया भैयालाल को पकडऩे पहुंची पुलिस की टीम पर महिलाओं, बच्चों सहित अन्य लोगों ने लाठियों से हमला कर पथराव कर दिया, पथराव में महिला एसआई संध्या चंदेल सहित अन्य पुलिस कर्मियों को चोट आई, मौके पर मौजूद पुलिस ने कंट्रोल रूम फोन कर सूचना दी जिसके बाद और बल मौके पर पहुंचा, पुलिस ने सटोरिया भैयालाल को पकड़ लिया, वहीं हमला करने वाली महिलाओं की तलाश शुरु कर दी गई है।

सेल्फ़ी ने ली फिर जान, दो फुफेरे भाइयों की डूबने से मौत, दो दिन बाद मिले शव

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार छुई खदान क्षेत्र में भैयालाल व उसके परिजनों द्वारा लम्बे समय से सट्टा खिलाया जा रहा है, सुबह से देर रात तक घर के बाहर भीड़भाड़ लगी रहती है, जिससे क्षेत्रीय लोगों को निकलना तक मुश्किल होता है, इस बात की शिकायत मिलने पर थाना में पदस्थ एसआई संध्या चंदेल ने अपनी टीम के साथ दबिश दे दी, पुलिस को देखते ही सटोरिया भैयालाल ने पुलिस से विवाद शुरू कर दिया, पुलिस ने जैसे ही भैयालाल को पकड़ा तो वह धक्कामुक्की करने पर उतारु हो गया, वही उसके परिजन विनीता विश्वकर्मा, नीतू विश्वकर्मा, बच्चों सहित कुछ अन्य महिलाएं व बच्चे भी निकलकर आ गए, जिन्होने पुलिस की कार्यवाही का विरोध करते हुए लाठियां चलाना शुरु कर दिया, इसके बाद भी पुलिस जब नही हटी तो चारों ओर से पथराव करना शुरु कर दिया, अचानक किए गए पथराव से अफरातफरी व भगदड़ मच गई।  पथराव में एसआई सहित अन्य पुलिस कर्मियों के शरीर पर चोट आई, इस बात की खबर मिलते ही थाना से अतिरिक्त बल पहुंच गया, जिससे लोगों में भगदड़ मच गई. इस बीच पुलिस ने भैयालाल को तो गिरफ्तार कर लिया, वहीं अन्य महिलाओं को पकडऩे के लिए पुलिस की टीम संभावित ठिकानों पर लगातार दबिश दे रही है।