सीएम शिवराज ने पप्पू के यहां पी चाय, कहा- चाय बहुत अच्छी है

जबलपुर, संदीप कुमार। सीएम शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chouhan) को पांव-पांव वाले भैया शायद इसीलिये कहते हैं…उनकी खासियत यही है कि वे आम लोगो के बीच बिल्कुल आम व्यक्ति बन जाते हैं। शनिवार को फिर ऐसा ही दृश्य सामने आया जब दो दिवसीय दौरे पर जबलपुर-दमोह पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अचानक ही चाय की चुस्की लेने के लिए एक स्थानीय टी स्टॉल (local tea stall) पर रूक गए।

सीएम शिवराज चाय पीने पप्पू (pappu) की दुकान जा पहुंचे, शहर के छोटी लाइन स्थित पप्पू की चाय की दुकान कोरोना कॉल के समय पूरी तरह से बंद हो गई थी। स्ट्रीट वेंडर निधि के तहत 10000 रु की राशि पप्पू गुप्ता को दिलाई गई और उसी राशि से पप्पू ने पुनः एक बार अपनी चाय की दुकान को स्थापित किया। योजना के तहत दी गई राशि से पप्पू की दुकान कैसी चल रही है यह जानने के लिए सीएम शिवराज सिंह चौहान उनकी दुकान पहुंचे और चाय की चुस्की भी ली।

सिर्फ चाय पीने नहीं, योजना की जानकारी लेने भी आया हूं- सीएम शिवराज
जबलपुर शहर के छोटी लाइन स्थित पप्पू गुप्ता की चाय की दुकान में सांसद राकेश सिंह के साथ अचानक पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सिर्फ चाय पीने ही उद्देश्य नहीं था। यह भी जानने की जरूरत है कि कोरोना काल के बाद जो राशि शासन की योजना के तहत हितग्राहियों को दी जा रही है उसका क्रियान्वयन कहां तक हो रहा है। उन्होने कहा कि यह देख कर खुशी हुई है कि शासन की योजना के तहत मिली राशि सही तरह से लाभ उठा रहे हैं।

नर्मदा स्वच्छता पर कुछ समय के लिए लग गई थी रोक।
जबलपुर प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि निश्चित रूप से नर्मदा की स्वच्छता में बीच में कुछ कमी आई थी। एक तो 15 माह की कांग्रेस सरकार में नर्मदा स्वच्छता का काम काफी धीमा हो गया था, वहीं एक साल कोरोना काल ने नर्मदा स्वच्छता के अभियान पर रोक लगा दी थी। लेकिन अब जबलपुर सहित प्रदेश के 18 जिलों में नर्मदा वाटर ट्रीटमेंट प्लांट लगाया जा रहा है और इस प्लांट से काफी हद तक नर्मदा नदी स्वच्छ हो जाएगी।

2 मई दीदी गई, इस नारे को भी दोहराया
हाल के दिनों में पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने हैं और इस चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी काफी उत्साहित भी है। हाल ही में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पश्चिम बंगाल में प्रचार प्रसार करने गए हुए थे। वहां पर उन्होंने एक नारा दिया है कि “2 मई दीदी गई,” जबलपुर में भी सीएम शिवराज सिंह चौहान ने इस नारे को बुलंद किया।