बच्चे की मौत से दुखी नायक सूबेदार और उसकी पत्नी ने की आत्महत्या

Unhappy-student-hangs-due-to-failure

जबलपुर/संदीप कुमार

कोरोना वायरस संक्रमण के बीच गुरूवार शाम जबलपुर पुलिस को एक और बड़ी घटना से दो चार होना पड़ा है। जम्मू कश्मीर रायफल रेजीमेंट में पदस्थ नायक सूबेदार ने अपनी पत्नी के साथ फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। एक साथ पति पत्नी के फाँसी लगाकर आत्महत्या करने से समूचे सैन्य परिसर सहित पूरे शहर में हड़कप मच गया। सूचना के बाद कैंट सीएसपी अखिल वर्मा सहित थाने का स्टाफ भी मौके पर पहुँच जांच शुरू कर दी है।

गुरूवार सुबह ही तीन साल के बच्चे की हुई थी मौत..…
कैंट थाना प्रभारी विजय तिवारी के मुताबिक नायक जितेंद्र(उम्र32) उन्होने अपनी पत्नी सरबजीत सिंह(उम्र 30)के साथ मिलकर अपने सरकारी आवास में फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। बताया जा रहा है कि गुरूवार सुबह ही उनके 3 साल के बच्चे की मौत हो गई थी। अपने बच्चे की मौत के बाद से ही पति-पत्नी शोक में डूबे थे और दोनो ने सुबह से किसी पड़ोसी से बात भी नही की थी।

शाम को जब दोनों बाहर नहीं निकले तो अधिकारियों को दी गई सूचना
गुरूवार शाम को जब जितेंद्र से मिलने के लिए उसके साथी घर पहुँचे तो दरवाजा बंद था। काफी देर तक आवाज देने के बाद जब कोई बाहर नही आया तो वरिष्ठ अधिकारियों को इसकी जानकारी दी गई।

2015 में भी चार साल के बच्चे की हो गई थी मौत
कैंट थाना पुलिस की जांच मे सामने आया कि सन 2015 में भी नायक जितेंद्र और उनकी पत्नी सरबजीत सिंह के चार साल के बच्चे की बीमारी के कारण मौत हो गई थी, वही गुरूवार को एक बार फिर उनके इकलौते बच्चे की मौत हो गई जिससे दोनों ही सदमे में चले गए थे। फिलहाल दोनों के शव का पंचनामा कर पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज भेज जांच शुरू कर दी गई है।