जबलपुर : पूर्व बिशप पीसी सिंह के बाद अब EOW ने कसा उसके बेटे पर शिकंजा, जांच के लिए किया तलब

ईओडब्ल्यू ने कई दस्तावेजों के साथ पीयूष पाल को ईओडब्ल्यू ऑफिस तलब किया है। पीयूष पाल को उसके नियुक्ति और जारोहा ट्रस्ट के दस्तावेजों के साथ बुलाया है।

जबलपुर, संदीप कुमार।  बिशप पी.सी सिंह के जेल जाने के बाद अब जबलपुर EOW ने उसके बेटे पियूष पाल पर भी शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। ईओडब्ल्यू ने कई दस्तावेजों के साथ पीयूष पाल को ईओडब्ल्यू ऑफिस तलब किया है। पीयूष पाल को उसके नियुक्ति और जारोहा ट्रस्ट के दस्तावेजों के साथ बुलाया है। EOW यह जानना चाह रही है की जारोहा ट्रस्ट के जरिए क्या-क्या काम किए जाते थे और उसमें कहां से पैसा आता था।

यह भी पढ़ें…. जबलपुर : प्रदेश की सबसे बड़ी आर्मी कैन्टीन में चोरी का खुलासा, 7 चोर गिरफ्तार, लाखों का समान बरामद

EOW को जानकारी मिली थी कि बिशप पी.सी सिंह ने नियम विरुद्ध तरीके से अपने बेटे को क्रिश्चियन स्कूल का प्रिंसिपल बना दिया था। जिसको लेकर ईओडब्ल्यू ने पीयूष पाल से ऑफर लेटर और जॉइनिंग लेटर समेत नियुक्ति संबंधी अन्य दस्तावेज मांगे हैं। ईओडब्ल्यू ने अपनी जांच के दौरान पाया है कि बिशप पी. सी सिंह की ओर से बनाई गई जारोहा सोसायटी भी फर्जी है। इस सोसाइटी में बिशप पी.सी सिंह समेत उनका बेटा पीयूष पाल, पत्नी नोरा सिंह और बेटी प्रियंका सिंह ट्रस्टी थे।

बिशप पी.सी सिंह के बेटे पियूष पाल के साथ ईओडब्ल्यू ने आज दमोह से संचालित दो और जबलपुर के सतपुला में संचालित स्कूल के प्रिंसिपलो समेत ट्रेजरर जेम्स को भी पूछताछ के लिए अपने ऑफिस बुलाया है। इसके साथ ही ईओडब्ल्यू ने स्कूल के अकाउंटेंट को भी नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए अपने ऑफिस में तलब किया है।