मध्य प्रदेश के भेड़ाघाट में ‘नर्मदा महोत्सव’ का आयोजन, संगमरमर की वादियों में गूजेंगे मनमोहक तराने

Narmada Mahotsav

Narmada Mahotsav: मध्य प्रदेश के जबलपुर का भेड़ाघाट अपनी खूबसूरत संगमरमर की वादियों के लिए पहचाना जाता है। यहां बहने वाला धुआंदार झरना उसकी कल-कल करती ध्वनि और ठंडी हवाएं किसी का भी मन मोह सकती है। ये एक शानदार और प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है जहां प्रकृति के जादू का आनंद लेने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक पहुंचते हैं।

इस मशहूर पर्यटक स्थल पर शुक्रवार से दो दिवसीय नर्मदा महोत्सव की शुरुआत होने वाली है। चांदनी रात में नर्मदा के तट पर कई सांस्कृतिक और धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। यहां कई कलाकार सांस्कृतिक प्रस्तुतियां देंगे और दो दिनों तक प्रकृति की अनुपम छटा के बीच ये रंगारंग उत्सव चलेगा।

शरद पूर्णिमा पर आयोजन

यह कार्यक्रम जबलपुर पुरातत्व पर्यटन एवं संस्कृति परिषद जिला पंचायत, जिला प्रशासन, नगर निगम जबलपुर और नगर परिषद भेड़ाघाट तथा विकास प्राधिकरण के सहयोग से आयोजित कर रहा है। शरद पूर्णिमा के खास मौके पर दो दिवसीय इस कार्यक्रम का आयोजन रखा गया है। 7 बजे से रंगारंग शाम की शुरुआत होगी जिसमें पार्श्व गायिका साधना सरगम के तराने गूंजेंगे। इसके अलावा मेघा पांडेय और उनका ग्रुप लोक नृत्य की प्रस्तुति देगा।

मनमोहक गीतों का तराना

शाम 7 बजे से शुरू होने वाले इस कार्यक्रम में 7:45 बजे गायिका साधना अपने मनमोहन गीतों की प्रस्तुति देंगी। इसके बाद ईशान मिनोचा भजनों की प्रस्तुति देंगे और रंगारंग कार्यक्रमों का यह सिलसिला देर रात तक जारी रहेगा। यह आयोजन दूसरे दिन भी रखा गया है जिसमें सूफी गायिका ममता जोशी की मधुर आवाज भेड़ाघाट की हसीन वादियों में सुनाई देगी।


About Author
Diksha Bhanupriy

Diksha Bhanupriy

"पत्रकारिता का मुख्य काम है, लोकहित की महत्वपूर्ण जानकारी जुटाना और उस जानकारी को संदर्भ के साथ इस तरह रखना कि हम उसका इस्तेमाल मनुष्य की स्थिति सुधारने में कर सकें।” इसी उद्देश्य के साथ मैं पिछले 10 वर्षों से पत्रकारिता के क्षेत्र में काम कर रही हूं। मुझे डिजिटल से लेकर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का अनुभव है। मैं कॉपी राइटिंग, वेब कॉन्टेंट राइटिंग करना जानती हूं। मेरे पसंदीदा विषय दैनिक अपडेट, मनोरंजन और जीवनशैली समेत अन्य विषयों से संबंधित है।

Other Latest News