दंपत्ति ने अपने ही परिवार की बुजुर्ग महिला से की धोखाधड़ी, आरोपी पर पहले भी धोखाधड़ी के मामले है दर्ज

घर खरीदने के नाम पर बुजुर्ग महिला माया के साथ उन्हीं के परिवार के एक दंपत्ति ने 12 लाख रु की धोखाधड़ी की। बुजुर्ग के रुपये मांगने पर उन्हें बैंक का चेक थमा दिया। वो भी चेक (cheque) बाउंस हो गया।

जबलपुर, संदीप कुमार। जिले के उपरेनगंज में रहने वाली 52 साल की बुजुर्ग महिला के साथ उनके ही परिवार में रहने वाली दंपत्ति ने मकान खरीदने के नाम पर 12 लाख रु की धोखाधड़ी की। बुजुर्ग महिला ने इसकी शिकायत कोतवाली थाने में की है। इसके बाद पुलिस ने पति पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। बताया जा रहा है पति-पत्नी अभिषेक और लक्ष्मी ने इससे पहले भी कई लोगों के साथ धोखाधड़ी (Fraud) करते हुए रुपये हड़पे है।

मकान खरीदना के नाम पर मांगे थे रुपये
कोतवाली पुलिस को बुजुर्ग महिला माया बाई ने बताया कि 3-11-2020 को अभिषेक सोनी और उसकी पत्नी विजय लक्ष्मी सोनी, जिनसे हमारा पारिवारिक संबंध है उन्होंने सूजी मौहल्ला में मकान खरीदने के लिए 12 लाख रूपये मांगे थे। साथ ही कहा कि मकान फायनेंस (Finance) कराकर एक दो माह मे आपके रुपये लौटा देंगे, तब माया ने कहा कि 12 लाख रूपये नगद नही हैं तब अभिषेक और विजयलक्षमी कहने लगे कि अभी 5 लाख रूपये की व्यवस्था कर दो।
इसके बाद दोनों की बातों में आकर बुजुर्ग महिला माया बाई ने अपनी बेटी की शादी के लिये जो थोड़ा-थोड़ा रुपये एकत्र किया था, वह 4 लाख 50 हजार रूपये अभिषेक एवं उसकी पत्नी को दे दिये। एक सप्ताह बाद अभिषेक सोनी एवं वियलक्ष्मी सोनी पुनः माया बाई के घर पहुँचे और कहा की मकान की रजिस्ट्री (Registry) कराना है, मकान अभी फायनेंस नहीं हो रहा है। आपके द्वारा दिये गये 4 लाख 50 हजार रूपये उसने मकान मालिक को दे दिये हैं और पैसों की व्यवस्था नहीं हो पायी तो पैसे डूब जायेंगें।

ये भी पढे़- Coronavirus: MP में लॉकडाउन लगाने को लेकर शिवराज सिंह चौहान का बड़ा बयान

अभिषेक की पत्नी ने जैसे ही बुजुर्ग महिला से कहा कि अभी मकान फाइनेंस नहीं हो रहा है और जो पैसे आप ने दिए थे वह मकान मालिक को दे दिए हैं इतना सुनते ही बुजुर्ग महिला माया बाई घबरा गयी कि कही उसके पति को पता न चल जाये कि उसने 4 लाख 50 हजार रूपये अभिषेक सोनी एवं उसकी पत्नी विजयलक्ष्मी को दे दिये हैं। माया बाई ने अपनी छोटी बहन अंजलि से 4 लाख रु और बंसती सोनी जो उसके मौहल्ले की है से उससे 3 लाख 50 हजार रूपये उधार लिये और फिर 7 लाख 50 हजार अभिषेक सोनी एवं विजयलक्ष्मी सोनी को दे दिये।

रुपये मिलते ही घर से गायब हो गए पति-पत्नी
12 लाख रु देने के कुछ दिन बाद माया रुपये लेने के लिए अभिषेक सोनी के घर शांति नगर गयी जहाँ उसकी भाभी मिली। उसने बताया कि अभिषेक और उसकी पत्नी विजयलक्ष्मी दोनों 8-10 दिन से कहीं गये हैं, इतना सुनते ही माया ने अभिषेक को फोन लगाया तो फोन बंद था। इसके बाद परेशान माया बाई अपने घर वापस आ गयी।

5 फरवरी की माया बाई पुनः अभिषेक के घर गयी तो घर पर उसकी पत्नी विजयलक्ष्मी मिली उसने कहा कि अभिषेक कही गया हुआ है। साथ ही कहा कि आप एक बैंक का चैक ले लो। विजय लक्ष्मी ने माया बाई को भारतीय स्टेट बैंक का 12 लाख रू का चेक दे दिया, 15 फरवरी को माया बाई ने चैक (Cheque) लगाया तो वह बाउंस (Bounce) हो गया, बुजर्ग महिला घबरा गयी उसने अपनी छोटी बहन अंजली एवं पड़ौसन बसंती सोनी को आकर पुरा वाक्य सुनाया।

ये भी पढ़े- Jabalpur News : सेना के जवान से चोरी करना चोर को पड़ गया भारी, देखिए यह हुआ हश्र

अभिषेक सोनी एवं विजयलक्ष्मी सोनी यह जानते हुए कि खाता मे पर्याप्त पैसे नहीं हैं फिर भी उसे धोखा देने के लिये चैक भरकर दिया। महिला को लगा कि दोनों ने झांसा देकर कही 12 लाख रु हड़प लिए है। शिकायत पर अभिषेक सोनी एवं विजयलक्ष्मी सोनी के खिलाफ़ धारा 420, 34 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर प्रकरण विवेचना में लिया गया है। जांच के दौरान कोतवाली पुलिस को जानकारी लगी कि आरोपी अभिषेक सोनी को भेड़ाघाट थाना पुलिस ने धोखाधड़ी के प्रकरण में गिरफ्तार कर केन्द्रीय जेल जबलपुर भेजा है।