Ladli Behna Yojana : 1.29 करोड़ लाड़ली बहनों के लिए जरूरी खबर, अब जुलाई में आएंगे अगली किस्त के पैसे, क्या बढ़ेगी राशि? जानें अबतक की अपडेट्स

बीते साल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मई-जून 2023 में लाडली बहना योजना की शुरुआत की थी। इसमें 21 से 60 वर्ष की विवाहित महिलाओं को लाभ देने का फैसला किया गया था और फिर इसकी पहली किस्त 10 जून को जारी की गई थी।अबतक योजना की 13 किस्तें जारी हो चुकी है और अब 14वीं किस्त अगले महीने आएगी।

Chief Minister Ladli Behna Yojana : मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना की 1.29 करोड़ लाभार्थी बहनों के लिए जरूरी खबर है। राज्य की मोहन यादव सरकार ने योजना के 13वीं किस्त के 1250 रु लाभार्थी बहनों के खाते में भेज दिए गए है। अब अगली किस्त जुलाई में जारी की जाएगी। खबर है कि मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव जल्द योजना का रिव्यू करने वाले है। संभावना है कि रिव्यू के दौरान सीएम बाकी बचे नामों को शामिल करने या फिर राशि बढ़ाने पर विचार कर सकते है चुंकी बीते दिनों लोकसभा चुनाव की सभाओं में उन्होंने इस ओर संकेत दिए थे।

अब जुलाई में आएगी अगली किस्त

लाड़ली बहना योजना के नियम के तहत, हर महीने की 10 तारीख को करोड़ों बहनों के खाते में 1250 रुपए भेजे जाते है, लेकिन बीते कई महीनों से किस्त समय से पहले जारी की जा रही है। हाल ही में 13वीं किस्त की राशि भी लोकसभा चुनाव की आचार संहिता हटते ही समय से पहले 7 जून को भेज दी गई है। इससे पहले 12वीं किस्त 10 की जगह 4 मई को खातों ,चैत्र नवरात्र (मार्च) और गुड़ी पड़वा (अप्रैल) को देखते हुए 10वीं-11वीं किस्त 1 मार्च और 5 अप्रैल को खातों में भेजी गई थी। अब अगली किस्त 10 जुलाई को जारी की जाएगी।जुलाई में राशि तय समय पर आएगी या फिर समय से पहलें, इसके लिए फिलहाल इंतजार करना पड़ेगा।

क्या बढ़ेगी लाड़ली बहनों की राशि?

  • लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद अब सबकी निगाहें लाड़ली बहना योजना पर टिकी हुई है। खबर है कि जल्द सीएम मोहन यादव योजना का रिव्यू करने वाले है। इसमें किस्त बढ़ाने या फिर बचे नामों को योजना में शामिल करने पर विचार किया जा सकता है। चुंकी बीते दिनों लोकसभा चुनाव के दौरान एक सभा को संबोधित करने सीएम ने कहा था कि आप लोग चिंता मत कीजिए। हम एक योजना बंद नहीं करेंगे। लाडली बहना योजना के तहत आपको पैसा मिलता रहेगा।’
  • सीएम ने कहा था कि चुनाव खत्म होने के बाद योजना में छूटे लोगों के नाम जोड़े जाएंगे। हर महीने की 10 तारीख को बहनों के बैंक खाते में राशि जमा हो जाएगी और यदि छुट्टी अथवा अन्य किसी कारण से ऐसा संभव नहीं हुआ तो पहले जमा हो जाएगी।विधानसभा चुनाव से पहले सरकार ने घोषणा की थी कि यह राशि धीरे-धीरे बढ़ा कर ₹3000 कर दी जाएगी, इस वादे को भी पूरा किया जाएगा।

मई 2023 में शुरू हुई थी यह योजना 

लाड़ली बहना योजना पिछली शिवराज सिंह चौहान सरकार द्वारा मई 2023 में शुरू की गई थी। इसमें 21 से 60 वर्ष की विवाहित महिलाओं को 1000 रुपए देने का फैसला किया गया था और फिर इसकी पहली किस्त 10 जून को जारी की गई थी।इसके बाद रक्षाबंधन 2023 पर राशि को बढ़ाकर 1250 रुपए कर दिया गया था।अब इस योजना के तहत 1250 रुपए महीना के हिसाब से महिलाओं को सालाना 15,000 रुपये मिलते हैं।

इन्हें मिलता है लाभ

इस योजना में 1 जनवरी 1963 के बाद लेकिन 1 जनवरी 2000 तक जन्मी मध्यप्रदेश की स्थानीय निवासी समस्त विवाहित महिलाएं (विधवा, तलाकशुदा एवं परित्यक्ता समेत) वर्ष 2023 में आवेदन के लिए पात्र मानी जाती है।महिलाएं, खुद या उनके परिवार में कोई टैक्सपेयर नहीं होना चाहिए ।परिवार की सालाना आय 2.5 लाख रुपये होना चाहिए।
अगर संयुक्त परिवार है तो 5 एकड़ से ज्यादा जमीन न हो, परिवार में कोई भी व्यक्ति सरकारी नौकरी न करता हो।घर पर ट्रैक्टर, चारपहिया वाहन न हो।

लाड़ली बहना योजना- ऐसे चेक करें स्टेटस

  • सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट https://cmladlibahna.mp.gov.in/ पर जाएं।
  • वेबसाइट के मुख्य पृष्ठ पर आपको आवेदन एवं भुगतान की स्थिति का विकल्प मिलेगा उस पर क्लिक करें।
  • यहां दूसरे पेज के खुलते ही लाडली बहना का अपना आवेदन नंबर या सदस्य समग्र क्रमांक दर्ज करें।
  • आवेदन नंबर और समग्र आईडी क्रमांक के साथ दिया गया कैप्चा कोड दर्ज करेंगे तो मोबाइल पर ओटीपी नंबर भेजा जाएगा।
  • ओटीपी नंबर आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ही आएगाा, इस ओटीपी को दर्ज कर वेरीफाई करना होगा।
  • ओटीपी वेरीफाई करने के बाद सर्च वाला विकल्प दबा दें। यह प्रक्रिया पूरी करने के बाद लाडली बहना योजना की किस्त का पेमेंट स्टेटस ओपन हो जाएगा।

About Author
Pooja Khodani

Pooja Khodani

खबर वह होती है जिसे कोई दबाना चाहता है। बाकी सब विज्ञापन है। मकसद तय करना दम की बात है। मायने यह रखता है कि हम क्या छापते हैं और क्या नहीं छापते। "कलम भी हूँ और कलमकार भी हूँ। खबरों के छपने का आधार भी हूँ।। मैं इस व्यवस्था की भागीदार भी हूँ। इसे बदलने की एक तलबगार भी हूँ।। दिवानी ही नहीं हूँ, दिमागदार भी हूँ। झूठे पर प्रहार, सच्चे की यार भी हूं।।" (पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर)