Maoist affected area : नक्सलियों ने तेंदुपत्ता फड़ों पर लगाई आग, पुलिस महकमा अलर्ट

घटना 22 मई की रात्रि 11.30 बजे से 12 बजे के दरमियान लांजी थाना क्षेेत्र के डाबरी चौकी अंतर्गत ग्राम चुईडोडा और बिलालकसा के बीच की है।

बालाघाट, सुनील कोरे। Maoist affected area बालाघाट जिले में एक बार फिर नक्सलियों ने अपनी उपस्थिति का अहसास कराया है। इस बार भारत की कम्प्युनिस्ट पार्टी (माओवादी) के नाम से फेंके गये पर्चे के माध्यम से तेंदुपत्ता मजदूरो का प्रति सैकड़ा दाम और फड़ मुंशी एवं चपरासी का 25 हजार रूपये नहीं किये जाने सहित अन्य मांगो को लेकर नक्सलियों ने तेंदुपत्ता फड़ो पर आग लगा दी है।

यह भी पढ़े- Neemuch News : बुजुर्गों को पीट-पीटकर मारने वाले आरोपी का पुलिस ने भरे बाजार में निकाला जुलूस

बताया जा रहा है कि घटना 22 मई की रात्रि 11.30 बजे से 12 बजे के दरमियान लांजी थाना क्षेेत्र के डाबरी चौकी अंतर्गत ग्राम चुईडोडा और बिलालकसा के बीच की है। जहां लगभग आधा दर्जन से ज्यादा सशस्त्र नक्सलियों ने पहुंचकर तेंदुपत्ता फड़ में आग लगा दी और पर्चा फेंका है। जिसके बाद नक्सलियोें चिलकोना की ओर जाने की बात कही जा रही है।

नक्सलियों द्वारा तेंदुपत्ता फड़ में आग लगाये जाने के बाद बालाघाट पुलिस सक्रिय हो गई है और जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने सक्रियता बढ़ा दी है। पुलिस सूत्रोें की मानें तो पुलिस ने नक्सलियोें की घटना के बाद सर्चिंग को तेज कर अलर्ट जारी कर दिया है। हालांकि पुलिस का मानना है कि यह नक्सलियों द्वारा हताशा में उठाया गया कदम है और वह मजदूरो का हित नहीं बल्कि उनके परिश्रम को जला रहे है।

Maoist affected area : नक्सलियों ने तेंदुपत्ता फड़ों पर लगाई आग, पुलिस महकमा अलर्ट

यह भी पढ़े- Mandi bhav: 23 मई 2022 के Today’s Mandi Bhav के लिए पढ़े सबसे विश्वसनीय खबर

हालांकि यह कोई पहली मर्तबा नहीं है कि नक्सली संगठन द्वारा तेंदुपत्ता फड़ पर आगजनी की गई। पूर्व सीजन में भी नक्सलियोें ने ऐसी ही घटनाओं का अंजाम दिया था। जिसमें भी तेंदुपत्ता श्रमिकों को प्रति सैकड़ा तेंदुपत्ता में दर वृद्धि की मांग की गई थी। चूंकि जिले में तेंदुपत्ता का एक बड़ा काम है, जिसेे लेने महाराष्ट्र सहित अन्य जगहोें के व्यापारी यहां आते है। बालाघाट का तेंदुपत्ता अपने आप में एक अलग पहचान रखता है।

यह भी पढ़े- KGF 2 Collection : RRR को पछाड़कर KGF 2 बनी तीसरी सर्वाधिक कमाई करने वाली मूवी

बीते सीजन में भी बालाघाट जिले में नक्सली घटना के बावजूद लक्ष्य से ज्यादा तेंदुपत्ता का संग्रहण किया गया था। इस वर्ष भी वनविभाग को आशा है कि वह लक्ष्य से ज्यादा तेंदुपत्ता का संग्रहण हो जायेगा। फिलहाल तेंदुपत्ता संग्रहण पर छाये नक्सली बादल को लेकर, ऐसा माना जा रहा है कि नक्सली ऐसी घटनाओं को वारदात देकर, तेंदुपत्ता ठेकेदारों पर दबाव बनाते है, ताकि उनसे राशि की डिमांड कर सके। हालांकि इस बार तेंदुपत्ता संग्रहण मेें पुलिस सुरक्षा तगड़ी की गई है। बताया जाता है कि प्रतिदिन 18 फड़ो पर पुलिस टीम जाकर फड़ मुंशियों से चर्चा कर रही है।

यह भी पढ़े- Neemuch News : बुजुर्गों को पीट-पीटकर मारने वाले आरोपी का पुलिस ने भरे बाजार में निकाला जुलूस

फिलहाल लांजी क्षेत्र के डाबरी चौकी अंतर्गत बीती मध्यरात्रि नक्सलियों द्वारा तेंदुपत्ता फड़ो को आग लगा दिये जाने की घटना को लेकर पुलिस महकमा भी अलर्ट देखा गया। बीती रात्रि नक्सली संगठन द्वारा दो तेदुपत्ता फड़ को जला दिया गया है। जिस पर वैैधानिक कार्यवाही की जा रही है। इस घटना से यह साफ हो जाता है कि नक्सलियों की तेेंदुपत्ता के सीजन में जो अवैध वसुली हो रही थी, उस पर ब्रेक लगा है। चूंकि अब तक 180 फड़ो पर पुलिस टीम ने पहुंचकर लोगों और फड़ मुंशियोें से चर्चा की है औैर किसी भी प्रकार की समस्या पर चर्चा के लिए मोबाईल नंबर भी शेयर किये है।

यह भी पढ़े- KGF 3 मचाएगा बॉक्स ऑफिस पर धूम, जल्द होगी शूटिंग शुरू, जाने कब होगी फिल्म रिलीज

जिससे नक्सलियों में बौखलाहट है और वह वसुली नहीं कर पाने की हताशा में ऐसी घटना को अंजाम दे रहेे है और यह साबित कर दिया है कि वह ग्रामीणों के किसी भी प्रकार से हितैषी नहीं है, क्योंकि ग्रामीणों ने दिन-रात मेहनत कर तेंदुपत्ता तोड़ा है और उनकी मेहनत को इस तरह से आग लगाना, उनके चेहरे को उजागर करता है। एक पर्चा मिला है, जिसकी जांच की जा रही है।
समीर सौरभ, पुलिस अधीक्षक