Morena News: आयुष्मान कार्ड के लक्ष्य पूर्ण न करने पर कलेक्टर ने 4 जनपद सीईओ को दी अनोखी सजा

कलेक्टर ने सभी जनपद सीईओ को निर्देश दिए हैं कि वे अपने वेतन से 500-500 रुपए के मास्क खरीदें और अपने क्षेत्र में जाकर चौराहे पर लोगों को बांटें।

morena, collector

 मुरैना, संजय दीक्षित। कोरोना (corona) के तेजी से फैलते संक्रमण (infection) को देखते हुए 23 मार्च को रोको-टोको अभियान (campaign) चलाया गया। रोको टोको अभियान में कलेक्टर (collector) और एसपी (sp) ने चौराहे पर जाकर मास्क वितरित (mask distribution) किये गए। कलेक्टर बी कार्तिकेयन ने इस दौरान जिले भर के चारों जनपद सीईओ (district CEO) को अनोखी सजा (punishment) दी है। उन्होंने ये सजा उनके दिये गये निर्देश का पालन न करने पर दी।

दरअसल, कलेक्टर ने पिछली बैठक में सभी जनपद सीईओ को 6 लाख लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाने के लक्ष्य दिया था। इसके बाद जब कलेक्टर ने बैठक में सभी सीईओ से कार्ड के बारे में पूछा तो सभी ने एक स्वर में कहा कि सबके कार्ड बन गए हैं। किसी का कोई भी कार्ड बनना शेष नहीं है। जब कलेक्टर ने सभी सीईओ से लिखित में स्पष्टीकरण मांगा तो किसी भी जनपद सीईओ ने लिखित में जबाब नहीं दिया।

यह भी पढ़ें… होली से पहले लाखों किसानों, स्ट्रीट वेंडर्स को सीएम शिवराज ने दी बड़ी सौगात

इस पर कलेक्टर ने उन्हें सजा देते हुए मास्क वितरण के लिए बोला। कलेक्टर ने सभी जनपद सीईओ को निर्देश दिए हैं कि वे अपने वेतन से 500-500 रुपए के मास्क खरीदें और अपने क्षेत्र में जाकर चौराहे पर लोगों को बांटें। खुद के वेतन से 2 हज़ार के मास्क खरीदकर जनता में बांटने की सजा ये अनोखी सजा कलेक्टर ने सभी जनपद सीईओ को दी है।