Morena News : मुरैना कलेक्टर का एक्शन- 3 पटवारी निलंबित, 3 इंजीनियरों का वेतन काटा

वही मुरैना कलेक्टर ने चेतावनी देते हुए कहा कि राजस्व अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि आरबीसी 6-4 के लंबित प्रकरणों को शीघ्र निराकरण करें। ऐसे प्रकरण समाधान में लगे तो उस अधिकारी के खिलाफ सख्त कार्रवाही होगी।

मुरैना, संजय दीक्षित। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में लापरवाहों पर लगातार कार्रवाई जारी है। अब प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में लापरवाही बरतने पर तीन पटवारियों पर गाज गिरी है। मुरैना कलेक्टर (Morena Collector) ने सबलगढ़ तहसील के तीन पटवारियों को सस्पेंड कर दिया । इतना ही नही मुरैना कलेक्टर ने पीएम आवास योजना (Prime Minister Housing Scheme) में भी लापरवाही करने पर तीन उपयंत्रियों का वेतन काटने के निर्देश दिए है।

यह भी पढ़े…Bhind News – भिंड कलेक्टर का वीडियो वायरल, कर्मचारियों से बोले- ऐसी तैसी कर दूंगा

दरअसल, शनिवार को मुरैना कलेक्टर अनुराग वर्मा (Morena Collector Anurag Verma) ने पीएम किसान योजना (Prime Minister Kisan Samman Nidhi) की समीक्षा की और सबलगढ़ तहसील (Sabalgarh Tehsil) के तीन पटवारियों (Patwari) नरोत्तम मैकाले, महावीर करौसिया और सत्यम शर्मा को तत्काल प्रभाव से निलंबित (Suspended) कर दिया है। इन्होंने पीएम किसान योजना में 65 से 73 प्रतिशत कार्य की प्राथमिकता दिखाई, जबकि इन्हें शतप्रतिशत कार्य पूर्ण करने थे। कलेक्टर ने कहा कि सबलगढ़ में आचार संहिता (Code of Conduct) नहीं थी, इसके बावजूद भी पीएम किसान योजना में अच्छी प्रोग्रेस नहीं दिखाई है।

काम पूरा नहीं तो कर दूंगा बाहर सेवा से बाहर

वही मुरैना कलेक्टर ने चेतावनी देते हुए कहा कि राजस्व अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि आरबीसी 6-4 के लंबित प्रकरणों को शीघ्र निराकरण करें। ऐसे प्रकरण समाधान में लगे तो उस अधिकारी के खिलाफ सख्त कार्रवाही होगी। मैं अगले हफ्ते से वी-1 का वाचन कराउंगा। मुझे कमी मिली तो ऐसे पटवारी के खिलाफ सख्त कार्रवाही होगी। अपने-अपने रिकॉर्ड अपडेट करें। जनसुनवाई या अन्य किसी स्त्रोत से मुझे नामान्तरण, बंटवारा की शिकायतें मिलनी नहीं चाहिये। पटवारी गलती से इस विभाग में आ भी गये है तो वे कार्य को प्राथमिकता दें। कार्य नहीं करना है तो नौकरी से त्याग पत्र दें। अगर कार्य पूरा नहीं किया तो मैं सेवा से बाहर कर दूंगा।

इंजीनियरों का वेतन काटा, बोले- लापरवाही बर्दाश्त नहीं

कलेक्टर इतने पर भी नही रुके और आगे राजस्व अधिकारियों (Revenue Officers) और पटवारियों को निर्देश दिये कि गौशालाओं के लिये भूमि आरक्षित की जानी है, उस कार्य में प्राथमिकता दिखायें। मैं किसी भी स्थिति में लापरवाही को बर्दाश्त नहीं करूंगा। समीक्षा के दौरान सब इंजीनियर (Sub Engineer) भारत सिंह, ब्रजेश भदौरिया, हाकिम सिंह त्यागी द्वारा प्रधानमंत्री आवास कार्य पूर्ण नहीं किये है, इनका 15-15 दिवस का वेतन काटने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने कहा कि पंचायत सचिव (Panchayat Secretary) स्वसहायता समूहों का सहयोग करें। बैंको (Bank) में खाते खुलवायें। उनके साथ बैठकर रोस्टर बनायें और उन्हें लाभान्वित करायें। उन्होंने कहा कि जो पुराने पंचायत भवन है वहां समूहों को उपलब्ध करायें। भवन में सुरक्षित रहेगा और समूह की एक्टिविटी में चलती रहेगी।

कालाबाजारी मिली तो अधिकारी को करुंगा नौकरी से बाहर

इसके बाद कलेक्टर अनुराग वर्मा ने सबलगढ़ मुख्यालय पर कैलारस एवं सबलगढ़ के खण्ड स्तर के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने पुलिस (Morena Police) व नगर पालिका (Municipality) के सीमएओ को निर्देश दिये कि शहर में अतिक्रमण न दिखें। जाम के हालात मिले तो संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्रवाही होगी। उन्होंने कहा कि कैलारस व सबलगढ़ सीएमओ (Kailaras and Sabalgarh CMO) क्रेन एक माह के लिये किराये पर लें, जहां जाम की स्थिति मिले वहां ऐसे वाहनों को उठवाकर जप्त करें और चालान की कार्रवाही करे। कलेक्टर ने खाद विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि राशन समय पर मिले, दुकानें नियमित खुलें। राशन की कालाबाजारी (Black Marketing Of Ration) मिली तो उस अधिकारी को नौकरी से बाहर कर दूंगा। कलेक्टर ने खण्ड स्तर के अधिकारियों से खाद्य बीज, विद्युत सहित अन्य जनता से जुड़े विभागों को दिये आवश्यक निर्देश।