नीमच: सड़क निर्माण कार्य के दौरान हुआ हादसा, दीवार तोड़कर घर में घुस गया बड़ा पत्थर, पढ़ें पूरी खबर

Neemuch News: नीमच के सिंगोली मार्ग को जोड़ने वाले रतनगढ़ घाट का निर्माण कार्य चल रहा है। इसी दौरान बुधवार की रात में यहां एक हादसा हुआ है। रतनगढ़ घाट निर्माण के दौरान रोड का भराव कर रहे एक डंपर से एक बड़ा और भारी पत्थर गिर गया जो लुढ़कता हुआ एक घर की दीवार तोड़ता हुआ घुस गया है। जिसमें एक महिला गंभीर रूप से घायल हुई है। जिसे वार्ड क्रमांक 14 के पार्षद प्रतिनिधि हरीश माली द्वारा गंभीर अवस्था में प्राथमिक उपचार कराने के पश्चात जिला चिकित्सालय रेफर किया गया है।

इनपर लगे आरोप

मिली जानकारी अनुसार बताया जा रहा है हादसे में गीताबाई पति बाबूलाल भील वार्ड क्रमांक 14 रतनगढ़ घायल हुई है, जिसे प्राथमिक उपचार के पश्चात तत्काल जिला चिकित्सालय रेफर किया गया है। वहीं हादसे को लेकर रहवासियों ने जिम्मेदारों पर लापरवाही के आरोप लगाए हैं।

ऐसे हुई घटना

रतनगढ़ में घाट सेक्शन का कार्य चल रहा है एवं रोड ठेकेदार के कर्मचारियों द्वारा वार्ड क्रमांक 14 सामुदायिक भवन के पीछे गहरे गड्ढे को पार कर समतली करण का कार्य किया जा रहा है। जहां पर डंपर के द्वारा मुर्रम खाली की जा रही है उसके नजदीक ही आईएचएसडीपी के 135 क्वार्टर भी बने हुए है। इसके पास ही कुछ कच्चे मकान भी बने हुए हैं। रात के अंधेरे में इस प्रकार से रिहायशी इलाके में डंपर खाली करना किसी बड़े खतरे से कम नहीं है। निश्चित रूप से इसमें ठेकेदार के कर्मचारी की घोर लापरवाही सामने दिखाई दे रही है। अगर रिहाइशी इलाके में भराव करना ही था तो दिन के उजाले में करना चाहिए था। गनिमत रही की इस हादसे में कोई बड़ी जनहानि नहीं हुई। महिला के परिजनों सहित आसपास के मकानों में रह रहे लोगों में भय एवं दहशत का वातावरण बन गया है।

घाट ठेकेदार पर हो कार्रवाई

घाट क्षेत्र में हो रहे सड़क निर्माण तथा यहां एक्सप्लोसिव विस्फोट के कारण इस तरह का हादसा हुआ है क्षेत्रवासियों ने मांग की है कि सड़क ठेकेदार के खिलाफ तत्काल एफ आई आर दर्ज होना चाहिए क्योंकि घाट क्षेत्र के निर्माण के दौरान बड़े-बड़े एक्सप्लोसिव का उपयोग हुआ है जिसके चलते जो पत्थर लूज हो गए थे वहां अब धीरे-धीरे गिर रहे हैं।
नीमच से कमलेश सारडा की रिपोर्ट


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News