हौसला, हिम्मत और जुनून हो तो कोई कार्य असंभव नहीं, जानें पूरा मामला

Neemuch News : कहते हैं लगन, मेहनत और जुनून एक साथ मिल जाए तो तमाम विपरीत हालात भी सफलता को रोक नहीं पाते। ऐसा ही कुछ खास कर दिखाया है नीमच जिले के मनासा कस्बे के युवक रविकांत ने। जिसने अपने हौसले और जुनून के दम पर आसमान में उड़ान भरने की पहली सीढ़ी सफलतापूर्वक पार कर ली है। माता-पिता ने उसके इस सपने को पूरा करने के लिए पूरी शिद्दत से साथ दिया।

आसमान नापने का सपना किया पूरा

दरअसल मनासा कस्बे की द्वारिकापुरी धर्मशाला के पास देवेंद्र चौधरी पानी पूरी का ठेला बरसों से लगा रहे हैं। परिवार की आजीविका का यही एक साधन था। देवेंद्र का बेटा रविकांत बचपन से ही पानी पूरी के ठेले पर पिता का काम में हाथ तो बटाता था। ठेठ जमीन पर रहकर सुविधाओं से दूर जीवन जी रहे रविकांत के जहन में सपना आसमान नापने का था। वह पढ़ाई करता गया और अपने सपने को पूरा करने की दिशा में भी बढ़ता गया।

अब होगी हैदराबाद में ट्रेनिंग

माता-पिता ने भी उसका सपना पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। हर कदम पर साथ दिया। आखिरकार वह दिन आया और रविकांत ने खूब तैयारी करके भारतीय वायुसेना में फ्लाइंग ऑफिसर की परीक्षा में सफलता पा ही ली। हैदराबाद में अगले प्रशिक्षण के लिए जैसे ही पत्र रविकांत के घर आया तो परिवार ही नहीं पड़ोसियों की भी खुशी का ठिकाना न रहा। अब जनप्रतिनिधि भी उसे बधाई देते थक नहीं रहे हैं। जगह जगह रविकांत और उसके माता पिता का सम्मान हो रहा है।
नीमच से कमलेश सारड़ा की रिपोर्ट