मध्य प्रदेश : कालेजों में नया सत्र देरी से होगा शुरू, जुलाई के पहले सप्ताह तक चलेंगी यूजी प्रथम वर्ष की परीक्षाएं

बरकतुल्लाह विश्वविद्यालय (बीयू) 7 जून से यूजी प्रथम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित करेगा तो वहीं, स्वायत्त कॉलेजों में प्रथम वर्ष की परीक्षाएं दूसरे सप्ताह में शुरू होने की संभावना है। अभी भी परीक्षा फॉर्म भरा जा रहा है। यूजी प्रथम वर्ष की परीक्षा में राज्य के चार लाख 90 हजार छात्र शामिल होंगे।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। राज्य के कॉलेजों में नए सत्र को समय पर शुरू करने को लेकर संशय के बदल छा गए है क्योंकि यूजी प्रथम वर्ष की परीक्षाएं अभी शुरू नहीं हुई हैं। बरकतुल्लाह विश्वविद्यालय (बीयू) 7 जून से यूजी प्रथम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित करेगा तो वहीं, स्वायत्त कॉलेजों में प्रथम वर्ष की परीक्षाएं दूसरे सप्ताह में शुरू होने की संभावना है। अभी भी परीक्षा फॉर्म भरा जा रहा है। यूजी प्रथम वर्ष की परीक्षा में राज्य के चार लाख 90 हजार छात्र शामिल होंगे।

उधर, यूजी फाइनल ईयर की परीक्षाएं अभी चल रही हैं। ऐसे में उच्च शिक्षा विभाग के निर्देश का पालन कितना हो पाता है यह देखने वाली बात होगी क्योंकि विभाग ने 1 जुलाई से नया सत्र शुरू करने के निर्देश दिए थे। अब तक सेकेंड ईयर के 90 फीसदी कोर्स ही तैयार हो पाए हैं। राजधानी समेत राज्य भर के बरकतउल्ला विश्वविद्यालय से संबद्ध सभी कॉलेजों में स्नातक स्तर की परीक्षाएं सात जून से शुरू हो रही हैं। यह जुलाई के पहले सप्ताह तक चलेगा।

ये भी पढ़े … तीन जिलों में पंचायत चुनाव को लेकर आज जारी होगी अधिसूचना

बीयू इन सभी परीक्षाओं का आयोजन नई शिक्षा नीति के तहत जारी नियमों के आधार पर कर रहा है। विवि ने सभी परीक्षा केंद्रों पर तैयारी पूरी कर ली है। इधर, अब नए सत्र को लेकर छात्रों में विरोधाभास की स्थिति बनने लगी है। छात्रों का कहना है कि अगर जुलाई तक परीक्षाएं चलती रहेंगी तो नया सत्र कब शुरू होगा। उच्च शिक्षा विभाग ने 1 जुलाई से नया सत्र शुरू करने की घोषणा की है। ऐसे में छात्रों का कहना है कि सत्र शुरू होने में देरी हो सकती है, जिससे अगले सत्र में तैयारी के लिए कम समय मिलेगा।