पन्ना, भारत सिंह यादव। पन्ना (Panna) में पुलिस (police) को बड़ी सफलता हाथ लगी है जहां पर पुलिस ने अंतरराज्यीय एवं लुटेरी गैंग (robbery gang) का खुलासा किया है। पन्ना जिले के अलग-अलग थाना क्षेत्रों में हुई 21 चोरियों और नकबजनी की वारदातों का पर्दाफाश किया है। इस मामले में पुलिस ने 2 महिला सहित 8 पुरुष को गिरफ्तार किया है। साथी आरोपियों के कब्जे से एक अवैध कट्टा, एक कारतूस, एक लैपटॉप, एक प्रिंटर सहित सोने-चांदी के जेवरात बरामद किए। जिनकी कीमत करीब 15 लाख रुपए बताई जा रही है।

यह भी पढ़ें…सारंग का विपक्ष पर पलटवार, कहा- कांग्रेस के चेहरे पर मुखौटा लगा है

जानकारी के अनुसार 20 जून को फरियादी पुरुषोत्तम पटेरिया द्वारा एक शिकायत दर्ज कराई गई थी। जिसमें उसके साथ हुई लूट का जिक्र किया गया था। पुरुषोत्तम ने शिकायत में बताया था की उसकी शादी टीकमगढ़ जिले के ग्राम टीला में रहने वाली एक लड़की से हुई थी। शादी के बाद वह लड़की मेरे साथ सिर्फ 5 दिन रहे और छठवें दिन उसने मेरे घर से सारे जेवरात और नगदी लेकर फरार हो गई। फरियादी की रिपोर्ट पर थाना कोतवाली पन्ना में धोखाधड़ी व छल कपट का मामला तीन आरोपियों के विरुद्ध दर्ज किया गया और विवेचना में लिया गया। पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि 23 जून को सूचना प्राप्त हुई कि फर्जी तरीके से शादियां कराकर लोगों के घर से जेवरात एवं नकदी लेकर फरार होने के साथ ही घटनाओं में शामिल होने वाले गैंग के सदस्य पन्ना में एक घर में छिपे बैठे हैं। और आगे की योजनाएं बना रहे हैं जिस पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई कर 8 पुरुष और 2 महिलाओं को मकान से गिरफ्तार किया। आरोपी से पूछताछ में बताया गया कि वह लोग शादी रचा कर दूल्हे के घर से कीमती जेवरात एवं नदी पैसे चोरी करके भाग जाया करते थे और ऐसी कोई वादा लोगों ने अंजाम दिया है । वहीं पुलिस ने एक महिला से पूछताछ की तो उसने इन सारी घटनाओं का मास्टरमाइंड होना स्वीकार किया।

पुलिस द्वारा अभियुक्तों के कब्जे से 01 नग अवैध 315 बोर का देशी कट्टा, 01 कारतूस, 05 किलो चाँदी एवं सोने के जेवरात वजनी करीब 160 ग्राम, 01 लैपटॉप, 01 प्रिन्टर कुल मशरूका कीमती करीब 14 लाख 25 हजार रूपये के जब्त किये गये। मामले के अन्य फरार आरोपियों की तलाश पुलिस द्वारा की जा रही है । आरोपियों से पूँछताछ पर पन्ना जिले के अलावा टीकमगढ़, दमोह, छतरपुर एवं म.प्र. के बाहर अन्य राज्यों में मिथ्या शादी कर कीमती जेवरात एवं नगदी रूपये लेकर भागने की अन्य घटनाओं में शामिल होने की वारदासो के खुलासा होने की संभावना है।

यह भी पढ़ें…वैक्सीनेशन पर सवाल उठाने वाले कमलनाथ पर शिवराज का पलटवार, कही ये बड़ी बात