शिकारियों ने करंट बिछाकर ली पन्ना के ‘हीरे’ की जान, खाल उतारकर तालाब में फेंका शव

शिकारियों ने इस पन्ना के बाघ का शिकार कर दिया। हीरा नाम का बाघ भटक कर सतना के सिंहपुर थाना क्षेत्र के अमदरी वनक्षेत्र में आ गया था। यहां घात लगाए शिकारियों ने उसे मार डाला।

सतना, पुष्पराज सिंह बघेल। पन्ना के टाइगर रिजर्व (Panna Tiger Reserve) में लोगों के आकर्षण का केंद्र बना ‘हीरा’ नाम का बाघ (Heera Tiger) अब कभी दिखाई नहीं देगा। शिकारियों ने इस पन्ना के बाघ का सतना में शिकार कर दिया। बेरहम शिकारियों ने करेंट की तार लगाकर बााघ का शिकार किया और उसकी खाल उतार कर शव को तालाब में फेंक दिया। इसकी सूचना मिलने पर वन निभाग का अमला मौके पर पहुंचा और शव बरामद किया।

इंदौर में पड़ोसियों के बीच जमकर चले लात-घूंसे, मारपीट का Video Viral

शिकारियों ने करंट बिछाकर ली पन्ना के 'हीरे' की जान, खाल उतारकर तालाब में फेंका शव

दरअसल पन्ना के टाइगर रिजर्व से हीरा नाम का बाघ भटक कर सतना के सिंहपुर थाना क्षेत्र के अमदरी वनक्षेत्र के कक्ष क्र. 204 आ गया था। यहां घात लगाए शिकारियों ने करेंट की तार लगाकर उसका शिकार कर डाला। शिकारियो ने बााघ की खाल उतारने के बाद शव को तालाब में फेंक दिया था। आज सूचना मिलते ही वन अमला मौके पर पहुंचा और सड़ी गली हालत में तलाब से बााघ का शव निकालकर बरामद किया गया। वन अमले ने 3 संदेहियों को हिरासत में लिया है, जिनसे पूछताछ कर घटनाक्रम की जानकारी ली जा रही है। वन विभाग के आला अफसर भी मौके पर पहुंचे हैं। फिलहाल वन अमला मौके का मुआयना और शव निरीक्षण कर जांच में जुटे है। वन अफसर एक्सपर्ट रिपोर्ट के बाद ही विस्तृत जानकारी दे सकेंगे।

शिकारियों ने करंट बिछाकर ली पन्ना के 'हीरे' की जान, खाल उतारकर तालाब में फेंका शव

आपको बता दें कि शिकार हुए बाघ को पन्ना टाइगर रिजर्व का कॉलर आईडी लगा बाघ बताया जा रहा है। शिकार के बाद शिकारियों ने कॉलर आईडी निकाल कर झाड़ियों में फेंक दिया था जिसे बरामद कर लिया गया है। शव का पोस्टमार्टम करने के बाद वन विभाग अंतिम संस्कार किया गया। आपको बता दें कि यह इलाका पन्ना टाइगर रिजर्व से लगा हुआ है। गाहे-बगाहे भटक कर बाघ और अन्य जंगली जानवर इस इलाके में आ जाते हैं और बेरहम शिकारियों का शिकार हो जाते हैं।