लाड़ली बहना योजना शिविर का निरीक्षण, संभागयुक्त ने कहा “e-KYC के लिए पैसे लेने वालों पर दर्ज होगी FIR”

Manisha Kumari Pandey
Published on -

Ladli Bahna Yojana: संभागायुक्त श्री मालसिंह शनिवार को भोपाल संभाग के रायसेन जिले के अंबाडी गांव में नगर पालिका अध्यक्ष के साथ रिबन काटकर “लाड़ली बहना योजना” कैम्प का शुभारंभ किया। उन्होनें महिलाओं से संवाद कर योजना की जानकारी भी ली। रायसेन जिले के ग्रामीण और नगरीय क्षेत्रों के वार्डो में कैम्प लगाकर “मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना” के अंतर्गत महिला हितग्राहियों के फॉर्म जमा किए जाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है।

संभागायुक्त श्री मालसिंह द्वारा सांची जनपद के ग्राम अंबाड़ी और रायसेन स्थित जिला पशुपालन एवं डेयरी विभाग कार्यालय परिसर के कैम्प में माँ सरस्वती की पूजा की और रिबन काटकर शिविर का शुभारंभ किया गया। उन्होंने आवेदन प्रक्रिया का जायजा लिया। साथ ही वहाँ मौजूद महिलाओं से भी संवाद किया। इस दौरान नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती सविता सेन भी उपस्थित रहीं।

संभागायुक्त अम्बाड़ी में उपस्थित महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा कि “मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना शासन की महत्वाकांक्षी योजना है। योजना के तहत आवेदन करने तथा लाभ लेने की प्रक्रिया को काफी सरल बनाया गया है।” आगे उन्होंने कहा कि, “योजना के तहत महिला की समग्र आईडी में ई-केवायसी होना अनिवार्य है। इसके लिए घर-घर जाकर ईकेवायसी का कार्य निःशुल्क किया जा रहा है। साथ ही ई-केवायसी केन्द्रों, सीएससी और एमपी ऑनलाईन कियोस्क पर भी समग्र आईडी में ई-केवायसी निःशुल्क की जा रही है। किसी भी व्यक्ति या संस्था द्वारा महिलाओं की समग्र आईडी में e-KYC के लिए रूपए लेने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी।”

संभागयुक्त ने महिलाओं से अपील करते हुए कहा कि, “सभी पात्र महिलाएं योजना का लाभ लेने हेतु आगे आएं और आवेदन करें। साथ ही अपने आस-पड़ोस की महिलाओं को भी प्रेरित करें। संभागायुक्त द्वारा हितग्राही श्रीमती उर्मिला कुशवाह से संवाद कर योजना के बारे में पूछे जाने पर उर्मिला कुशवाह ने लाड़ली बहना योजना के लिए पात्रता तथा आवेदन करने हेतु जरूरी जानकारी के बारे में बताया। अन्य महिलाओं से योजना की जानकारी लेने पर उन्होंने भी एक स्वर में योजना के लिए पात्रता तथा जरूरी दस्तावेजों के बारे में बताया।

कार्यक्रम में संभागायुक्त को अवगत कराते हुए कलेक्टर श्री अरविंद दुबे ने बताया कि,” जिले में अभियान के रूप में महिलाओं की समग्र आईडी में ईकेवायसी पूर्णतः निःशुल्क की जा रही है। अधिकारियों द्वारा भी निरीक्षण कर मॉनीटरिंग की जा रही है। उन्होंने कहा कि योजना के प्रति महिलाओं में भी उत्साह है। अम्बाड़ी में 256 से महिलाओं की समग्र आईडी में ईकेवायसी हो गई है और शेष लगभग 150 महिलाओं की ईकेवायसी भी आने वाले दो दिनों में पूर्ण हो जाएगी।” दुबे ने कहा क, ” योजना का विभिन्न माध्यमों से प्रचार-प्रसार किया गया है और इसके सफल क्रियान्वयन हेतु कार्य योजना बनाकर काम किया जा रहा है।” निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत सीईओ श्रीमती अंजू भदौरिया सहित अन्य जनप्रतिनिधि और अधिकारी भी उपस्थित रहे।
भोपाल से रवि कुमार की रिपोर्ट


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News