पुलिस सूबेदार ने की खुदकुशी, लॉज में फांसी लगाकर जान दी

रायसेन/दिनेश यादव

रायसेन जिले के औद्योगिक क्षेत्र मंडीदीप में पुलिस सूबेदार अंशुल भलावी ने लॉज में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली जिससे पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही होशंगाबाद डीआईजी अरविंद सक्सेना एवं रायसेन एसपी मोनिका शुक्ला घटनास्थल पर पहुंचे।

दरअसल मंडीदीप औद्योगिक क्षेत्र में 28 वर्षीय पुलिस सूबेदार अंशुल भलावी ट्रैफिक ड्यूटी में पिछले सात आठ महीने से तैनात थे। वह मंडीदीप पुलिस थाने के पीछे स्थित आकाश लाज में रुक रहे थे और वह पिछले दो-तीन दिन से ड्यूटी पर दिखाई नहीं दे रहे थे। सूबेदार के फांसी लगाकर आत्महत्या का खुलासा तब हुआ जब लॉज के कमरे से बदबू आई इसके बाद लॉज प्रबंधन ने इसकी सूचना पुलिस को दी। जब मौके पर पुलिस पहुंची तो दरवाजा अंदर से बंद था। दरवाजा तोड़कर देखा तो सूबेदार फांसी पर लटके हुए थे। फिलहाल इस आत्महत्या का कारण अभी अज्ञात माना जा रहा है और पुलिस हर एंगल पर इसकी जांच कर रही है।

होशंगाबाद डीआईजी ने बताया कि सूबेदार अंशुल भलावी छिंदवाड़ा जिले के दमुआ निवासी है जो अविवाहित हैं। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है वही सूबेदार के परिजनों को भी घटना की सूचना दे दी गई है। पुलिस हर मामले पर जांच कर रही है कि आखिर आत्महत्या का कारण क्या रहा। ड्यूटी में डिप्रेशन से आत्महत्या की या अन्य कोई कारण रहा है इसकी जांच की जा रही है।