VIRAL VIDEO : बैल की जगह खुद गाड़ी खींच रही थी विधवा मां, बोली- खाना तक नहीं मिलता, रुला देगा आपको यह वीडियो

राजगढ़ से एक वीडियो वायरल (VIRAL VIDEO) हुआ है। जिसमें एक गरीब विधवा महिला अपनी मासूम बच्ची को बैलगाड़ी में बैठाकर हाथों से खींच रही है

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट | मध्य प्रदेश के राजगढ़ से एक वीडियो वायरल (VIRAL VIDEO) हुआ है। जिसमें एक गरीब विधवा महिला अपनी मासूम बच्ची को बैलगाड़ी में बैठाकर हाथों से खींच रही है। इस वीडियो को देखने के बाद प्रशासन और सरकार पर कई सारे सवाल खड़े हो गए हैं। बता दें कि इस वीडियो ने सभी को हैरान कर दिया है। तो आइए जानते हैं क्या है पूरा मामला।

यह भी पढ़ें – मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का निधन! 42 दिनों से दिल्ली के AIIMS में थे भर्ती

दरअसल, इस वायरल वीडियो में लक्ष्मी बाई नाम की महिला अपना थोड़ा सा सामान और मासूम बच्ची के साथ बैलगाड़ी को हाथों से खींचती हुई पचोर से 30 किलोमीटर दूर सारंगपुर जा रही थी। इस दौरान महिला ने तकरीबन 15 किलोमीटर तक का सफर तय कर लिया था। तभी दो लोगों की नजर महिला पर पड़ी। जिसके बाद उन्होंने उसकी बैलगाड़ी को बाइक से बांधा और उन्हें उनके गंतव्य सारंगपुर तक छोड़ा।

यह भी पढ़ें – 1 लाख पदों पर भर्ती की कवायद तेज, उम्मीदवारों को मिलेगा लाभ, इस तरह होगी भर्ती, 3 लाख से अधिक रिक्तियां, देखें विभागवार अपडेट

वहीं इस मामले के बाद महिला ने बताया कि, उसके पति की मृत्यु हो चुकी है और वह मुश्किल से एक वक्त का खाना खा पाती है। साथ ही उसने बताया कि, उनके पास रहने के लिए घर भी नहीं है उनकी मदद करने वाला भी कोई नहीं है और ना ही कोई मदद के लिए सामने आता है। प्रशासन भी उनकी मदद नहीं करती। जिसके कारण उन्हें जिंदगी इस प्रकार से गुजारनी पड़ रही है। इस दौरान महिला ने हाथ जोड़कर विनती करते हुए कहा कि, ”मैं हाथ जोड़कर विनती करती हूं मेरी और मेरी बेटी मदद की जाए. कम से कम मुझे दो वक्त का खाना मिल सके.”

यह भी पढ़ें – Indore : पहली बार सेंट्रल जेल में कैदियों ने मनाया श्राद्ध, पूर्वजों के लिए किया तर्पण

इधर महिला की मदद करने वाले शिक्षक देवी सिंह नागर का कहना है कि, वो अपने साथी के साथ कहीं जा रहे थे। इस दौरान उनकी नजर एक महिला पर पड़ी, जो कि अपने दोनों हाथों से बैलगाड़ी खींचती हुई जा रही थी। हमने अपनी बाइक रोककर उसकी मदद की कोशिश की. तभी महिला ने बताया कि, वह सारंगपुर जा रही है और उसने और उसकी बेटी ने कुछ खाया तक नहीं है। फिर हमने उससे पूछा, कोई रस्सी है तो उसने बैलगाड़ी से निकालकर रस्सी दी। जिसके बाद हमने उसकी बैलगाड़ी को बाइक से बांधा और सारंगपुर पहुंचाया दिया।

यह भी पढ़ें – Rashifal 21 September 2022 : मेष मिथुन कन्या को नौकरी-धन-पदोन्नति, वृश्चिक मीन के लिए जोखिम भरा दिन, जानें 12 राशियों का भविष्यफल

जबकि इस मामले में कलेक्टर हर्ष दीक्षित ने बताया कि, उन्हें मीडिया के माध्यम से इस महिला के बारे में जानकारी मिली है। महिला के बारे में पूरी जानकारी दी गई। साथ ही उन्होंने कहा कि, प्रशासनिक टीम को महिला के पास भेजा गया है और जितनी भी मदद हो पाएगी, प्रशासन की ओर से किया जाएगा।

यह भी पढ़ें – मध्य प्रदेश के शासकीय कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, नवंबर में होगी ये परीक्षा, 30 सितंबर से पहले करें आवेदन, जानें डिटेल्स