जब मंदिर के पास से शराब दुकान हटवाने विधायक खुद बैठे धरने पर !

रतलाम, डेस्क रिपोर्ट। जिला मुख्यालय से लगभग 100 किलोमीटर दूर आलोट के नेगरून गांव में मंदिर के पास स्थित शराब दुकान को हटाने के लिए आलोट के कांग्रेसी विधायक मनोज चावला के नेतृत्व में एसडीएम कार्यालय पर आलोट विधायक मनोज चावला ने धरना दे दिया जिसमें गांव के बड़ी संख्या में लोग जमा हुए, विधायक चावला बोले आबकारी अधिकारी शराब ठेकेदारों से सांठगांठ करके अवैध शराब बिकवा रहे हैं, और यह शराब गांव के गली गली में बिक रही है, इस पूरे मामले पर आलोट एसडीएम राजेश शुक्ला ने 15 दिन में उक्त दुकान को दूसरे स्थान पर परिवर्तित करने के निर्देश दिए हैं जिसके बाद विधायक व ग्रामीण जन ने अपना धरना प्रदर्शन समाप्त किया।

MP Transfer: मध्यप्रदेश में फिर हुए पुलिसकर्मियों के थोकबंद तबादले, यहां देखे लिस्ट

स्थानीय आबकारी अधिकारी ए के पटेरिया पर भड़के विधायक चावला बोले शराब दुकान नहीं हटा रहे हो और गली गली में शराब बिकवा रहे हो वहीं आबकारी अधिकारी ने पहले की तरह आश्वासन दे दिया, साइन ऑफ-गौरतलब है कि आलोट सहित पूरे जिले में अवैध शराब के धंधे विभाग की मिलीभगत से जोरों से हैं, कुछ दिन पहले नामली शराब दुकान पर हमला फिर जावरा में ठेकेदार पर हमला और फिर रावटी में शराब सेल्स मेन को गोली मार दी थी।