सागर: 10 साल बाद लिया भाई के कत्ल का बदला, ले ली आरोपी की जान, जानें पूरा मामला

मिली जानकारी के मुताबिक मृतक इंद्राज यादव ने गांव के ही कांशीराम ठाकुर की हत्या कर दी थी, जिसके आरोप में मृतक लगभग दस साल से सागर केन्द्रीय जेल में सजा काट रहा था।

indore

सागर, विनोद जैन। मध्यप्रदेश के सागर (Sagar) जिले के सुरखी थाना अंतर्गत ग्राम खमकुंआ में एक हत्या का मामला सामने आया है। जिसमें हत्या के मामले में जेल से रिहा हुये इंद्राज यादव की एक परिवार के लोगों ने कुल्हाड़ी, कतरना, बल्लम, लाठियों और रॉड से हमला कर के हत्या कर दी। मिली जानकारी के मुताबिक मृतक इंद्राज यादव ने गांव के ही कांशीराम ठाकुर की हत्या कर दी थी, जिसके आरोप में मृतक लगभग दस साल से सागर केन्द्रीय जेल में सजा काट रहा था।

मिली जानकारी के मुताबिक अभी लगभग चार माह पहले ही जेल से छूटकर अपने गांव खमकुआं आया था और अपने खेत में सोयाबीन की फसल की कटाई करवा रहा था।  तभी रघुवीर ठाकुर की नजर इंद्राज यादव पर पड़ी तो अपने मृतक भाई कांशीराम की हत्या की घटना आंखों में झूलने लगी और रघुवीर ठाकुर ने अपने परिवार के सदस्य जयसींग, जयराम, दिलीप, सीताराम हल्ले भैया और अन्य सदस्यों के साथ इंद्राज यादव पर कतरना, कुल्हाड़ी, बल्लम, लाठी और रोड्स से हमला किया।

यह भी पढ़े…अक्टूबर में लॉन्च होंगे ये धांसू स्मार्टफोन्स, गूगल पिक्सल और OnePlus भी लिस्ट में शामिल, यहाँ देखें लिस्ट

इस दौरान मृतक ने इनके हमले से बचने की भरपूर कोशिश करते दौड भी लगाई। लेकिन आरोपियों को तो अपने परिवार के काशीराम की हत्या और हत्या करने वाले इंद्राज की शक्ल ही आंखों के सामने झूल रही थी और आरोपियों ने इंद्राज को दौड़ा-दौड़ाकर धारदार हथियार से हाथ, पैर और गर्दन पर वार करके मौत के घाट उतार दिया और हत्या करने के बाद फरार हो गये। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।