रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ाया पीएचई का सहायक इंजीनियर

सतना। रीवा लोकायुक्त पुलिस की टीम ने बीती रात योजनाबद्ध तरीके से दबिश देकर सतना जिले की नागौद तहसील में पदस्थ पीएचई विभाग के एक सहायक इंजीनियर को 24 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि सहायक इंजीनियर ने यह राशि कुछ कार्यों के प्रमाण पत्र जारी करने के एवज में मांगी थी। शिकायत मिलने के बाद लोकायुक्त पुलिस ने गुरुवार को देर रात कार्रवाई को अंजाम दिया। आरोपित सहायक इंजीनियर के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है।

रीवा लोकायुक्त एसपी राजेंद्र वर्मा ने बताया कि सतना के नागौद में पदस्थ सहायक इंजीनियर मुरलीधर अहिरवार द्वारा मझियारी पंचायत के सरपंच रंजीत सिंह से आठ-आठ लाख के दो स्टॉप डेम, 2.88 लाख के तालाब निर्माण के प्रमाण पत्र जारी करने के एवज में 24 हजार रुपये रिश्वत की मांग की गई थी। सरपंच ने इसकी शिकायत लोकायुक्त पुलिस से की। शिकायत की पुष्टि होने के बाद गुरुवार को देर रात करीब 11 बजे योजनाबद्ध तरीके से सरपंच को पैसे लेकर सहायक इंजीनियर के सतना के प्रेम नगर स्थित किराए के मकान पर भेजा और जैसे ही उसने पैसे दिये, उसी समय लोकायुक्त पुलिस की टीम ने दबिश देकर सहायक इंजीनियर को रिश्वत के साथ रंगेहाथो गिरफ्तार किया। उन्होंने बताया कि सहायक इंजीनियर मुरलीधर अहिरवार के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है।