विंध्य का सबसे बड़ा तस्कर जस्सा मुठभेड़ में साथियों समेत धराया, नकदी समेत 2 करोड़ 77 लाख का माल बरामद

सतना| पुष्पराज सिंह बघेल| पिछले लम्बे समय से सतना पुलिस के लिये चुनौती बने रहे कुख्यात गांजा तस्कर अनूप जायसवाल उर्फ (जस्सा) को पकड़ने की बड़ी कामयाबी आखिर सतना पुलिस ने हासिल कर ली। जस्सा को भोपाल से लौटते वक्त हुई मुठभेड़ के बाद उसके 5 साथियों समेत पकड़ा गया है। उसके पास से 2 करोड़ 12 लाख रुपये की नगदी, 4 चार पहिया वाहन, साढ़े 9 लाख रुपये का 94 किलो गांजा और रिवाल्वर समेत 2 करोड़ 77 लाख रुपए का माल बरामद किया गया है। सतना के सबसे बड़े माने जाने वाले इस माफिया ने पकड़े जाने के दौरान पुलिस पर फायरिंग भी की लेकिन फिर भी बच नही सका। जस्सा पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित है।

सतना पुलिस के हाथ लगी इस बड़ी कामयाबी का खुलासा सतना पुलिस कंट्रोल रूम में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में आईजी रीवा रेंज चंचल शेखर एवं एसपी रियाज इकबाल ने दी। पुलिस ने बताया कि विंध्य क्षेत्र के इस सबसे बड़े माफिया का नेटवर्क एमपी,यूपी,उड़ीसा तक फैला था। जस्सा को पकड़ने के लिए पिछले काफी समय से प्रयास किया जा रहा था। उसकी लोकेशन भोपाल में मिली थी लेकिन जब तक टीम वहां पहुंची तब तक चार वाहनों में अपने 8 साथियों समेत जस्सा वहां से निकल आया था। लगातार चल रही निगरानी के बीच जस्सा के मैहर – परसमनिया मार्ग पर रामपुर पहाड़ी के निकट पहुंचने की सूचना मिली जहां पुलिस ने उसकी घेराबंदी कर ली। लेकिन जस्सा और उसके साथियों ने पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी।

मुठभेड़ के दौरान जस्सा और उसके 8 साथियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जस्सा ने पिछले दो दसक से विन्ध्य में अपने गाँजे शराब का जाल बिछा रखा था और लम्बे समय से फरार चल रहा था।जिसपर पुलिस ने 50 हजार का इनाम घोषित कर रखा था।जस्सा लगातार पुलिस की आंखों में धूल झोंकता रहा ।जस्सा पर 40 से अधिक मादक पदार्थ की तस्करी , हत्या लूट, जैसे अपराध दर्ज थे।