साइलो केंद्र पर गेहूं समेटने को लेकर किसान की पिटाई, थाने पहुंचा मामला

सीहोर/अनुराग शर्मा

सीहोर में सोमवार का एक बार फिर साइलो प्रबंधन की मनमानी सामने आई। प्रबंधन ने गेहूं समेटने को लेकर एक किसान को साइलो केंद्र का गेट बंद करने के बाद हम्माल, प्रबंधक ने पाइप, डंडे व फावड़े से किसान की पिटाई कर दी। इसमें किसान को गंभीर चोटें आने के साथ ही सिर से खून निकल आया, जिसकी सूचना मिलने पर सीएसपी व एसडीएम मौके पर पहुंचे और दोषियों के खिलाफ मामला दर्ज कराने के निर्देश दिए। मंडी थाने पहुंचे घायल किसान का मेडीकल कराया गया साथ ही दोनों पक्षों की तरफ से मिली शिकायत के बाद पुलिस जांच में जुट गई है।

जानकारी के अनुसार विकास पिता तुलसीराम पटेल 24 साल निवासी थूना पिछले तीन दिन से ट्राली व डंपर में गेहूं तुलाने साइलो केंद्र पर कतार में था, सोमवार को नंबर आने के बाद वो गेहूं तुलवा रहा था। इस दौरान तुलाई के समय गेहूं फैल गए तो प्रबंधन ने किसान से गेहूं समटने का कहा। किसान ने हम्माल से समेटने का बोला लेकिन साइलों प्रबंधन अभद्रता करने लगा। जब इसका विरोध किया तो मंडी प्रबंधक व हम्मालों ने गेट बंद कर किसान की  डंडे, पाइप व फावड़े से पिटाई कर दी, जिससे उसे कंधे, गरदन व सिर में गंभीर चोट आई। वहीं सूचना मिलने पर सीएसपी मंगल सिंह ठाकरे, एसडीएम आदित्य जैन सहित पुलिस अमला मौके पर पहुंचा और मामले को शांत कराकर किसान को मंडी थाने में मामला दर्ज कराने को कहा, जिसके बाद मंडी पुलिस ने किसान विकास परमार का मेडीकल कराया है। मंडी थाना प्रभारी अर्जुन जायसवाल ने बताया कि दोनों पक्ष किसान व साइलों प्रबंधन की शिकायत मिली है, जिसको लेकर मामले की जांच की जा रही है।

मौसम ने बढ़ाई किसानों की चिंता
समर्थन मूल्य केंद्र व साइलो केंद्र पर किसान 5-5 दिन से कतार में लगे हुए हैं। वहीं तीन दिन से बादल छा रहे हैं। रविवार रात बारिश भी शुरू हो गई थी। जबकि सोमवार को भी बादल छाए रहे। ऐसे में पानी गिरने से उपज भीगने का डर बना हुआ है, लेकिन तुलाई इतनी धीमी गति से हो रही है कि किसानों का लंबे समय तक नंबर नहीं आ पा रहा है।