Sehore News : शिक्षा माफिया पर बड़ा एक्शन, अशासकीय विद्यालयों पर लगाया 2 लाख का जुर्माना

कलेक्टर ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए सेन्ट एनिस स्कूल को वसूली गई फीस वापस करने के निर्देश दिए। साथ ही 7 दिवस के अंदर 2 लाख रुपए का जुर्माना जमा करने के आदेश भी दिए है। 

sehore ias

Sehore News : मध्य प्रदेश के सीहोर जिले से एक बड़ी खबर आ रही है। जहाँ जिला प्रशासन ने संचालित निजी स्कूल के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। कलेक्टर ने मनमानी तरीके से फीस वसूलने वाले निजी स्कूल पर 2 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है। कलेक्टर ने आदेश दिया है कि संबंधित स्कूल संचालक अभिभावकों को बढ़ी हुई राशि तत्काल वापस करें।

कलेक्टर प्रवीण सिंह ने जांच के लिए चार सदस्यों का दल गठित किया था। जांच में शिकायत सही पाए जाने पर कलेक्टर प्रवीण सिंह ने सेन्ट एन्स सीनियर सेकेण्डरी स्कूल पर 2 लाख रुपये का जुर्माने से दंडित किया गया है।

दरअसल जिला शिक्षा अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि पिछले दिनों सीहोर कलेक्टर को शिकायत मिली थी। जिसमे सेंट एनिस स्कूल में छात्रों के परिजनों से मनमानी तरीके से 50% फीस ज्यादा वसूली गई है। कलेक्टर ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए सेन्ट एनिस स्कूल को वसूली गई फीस वापस करने के निर्देश दिए। साथ ही 7 दिवस के अंदर 2 लाख रुपए का जुर्माना जमा करने के आदेश भी दिए है।

निजी स्कूल को दी चेतावनी

साथ ही निजी स्कूल को चेतावनी दी गई है कि भविष्य में मप्र निजी विद्यालय (फीस और संबंधित विषयों का विनियमन) अधिनियम 2017, मप्र निजी विद्यालय (फीस और संबंधित विषयों का विनियमन) नियम 2020 के उपबंधों और मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग के मार्गदर्शी सिद्धांतों का पूर्ण रूपेण पालन किया जाना सुनिश्चित करें।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है।वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News