सीहोर पुलिस ने किया अंधे कत्ल का पर्दाफाश, दोस्त ही निकला दोस्त का कातिल

सीहोर, अनुराग शर्मा

सीहोर पुलिस को मंगलवार को एक अंधे कत्ल का खुलासा करने में सफता हासिल हुई है। पुलिस ने बड़ी मशक्कत के बाद आरोपी को धरदबोचा है।

दरअसल, 1 अगस्त को इंदौर-भोपाल हाईवे पर गांव गुड़भेला के नाले में एक व्यक्ति का लाश मिलने से सनसनी फैल गई थी। जिसके बाद पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले की जांच शुरु कर दी थी। वहीं शव की शिनाख्त शुरु की जिसकी पहचान सिहोर के जवार में रहने वाले जितेंद्र चावड़ा के रुप में होना बताया गया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी की तलाश शुरु कर दी थी। पुलिस टीम बड़ी मशक्कत के बाद आरोपी दुर्गेश मालवीय तक पहुंची, आरोपी ने अपना गुनाह कुबूल कर लिया, जिसके बाद  पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

सीहोर के एडिशनल एसपी समीर यादव ने बताया की 28 जुलाई को आरोपी ने मृतक के साथ खाना खाया और उसे छोड़ने बाइक से घर जा रहा था, तभी रास्ते में रुपयों के लेन-देन को लेकर विवाद हो गया था। आरोपी दुर्गेश ने मृतक जितेंद्र चावड़ा की गला दबाकर हत्या कर दी और लाश को क्षत-विक्षत कर नाले में फेंक दिया। यह बात आरोपी ने अपने मित्र रवि यादव को बताई, वहींं रवि यादव को भी जानकारी छिपाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया है।
पूरे प्रकरण में नगर पुलिस अधीक्षक तुषार सिंह थाना प्रभारी मंडी अर्चना अहीर का सराहनीय योगदान रहा।