छतरपुर,संजय अवस्थी। गौरिहार थाना क्षेत्र के अलीपुर निवासी रामराजा दीक्षित ने पुलिस अधीक्षक को आवेदन सौंपा जिसमें उन्होंने बताया की उनका पूरा परिवार खेत पर फसल की कटाई कर रहा था। तभी गौरिहार थाना प्रभारी जसवंत सिंह और उनकी पुलिस टीम आई और उनके परिवार के रामपाल दीक्षित ,अशोक दीक्षित, ऋतुराज दीक्षित, भरत दीक्षित को अपने साथ थाने ले आई।

ये भी पढ़े-Gwalior News: डंपर ने मारी ट्रक को टक्कर, आग में जिंदा जल गया चालक

इसके बाद इन लोगों पर आबकारी एक्ट सहित विभिन्न धाराओं के तहत फर्जी मामला दर्ज कर लिया। उनके परिजनों ने यह भी आरोप लगाए हैं कि पुलिस ने महिलाओं और उनके पूरे परिवार के साथ मारपीट की है। परिजन मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है और थाना प्रभारी के ऊपर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की भी मांग की है।
पीड़ित परिवार ने थाना प्रभारी भाई जसवंत सिंह पर गंभीर आरोप लगाया है कि गांव के ठाकुरों से उनकी बुराई चलती है और उनके कहने पर थाना प्रभारी द्वारा यह हमारे परिजनों पर फर्जी मामला दर्ज किया गया है। वहीं इस मामले में एसपी सचिन शर्मा का कहना है कि पीड़ितों की शिकायत पर जांच करवाई जा रही है जो भी दोषी होगा कार्रवाई जरुर होगी।