बड़ी राहत: किसानों को समय पर उपलब्ध होंगे सोयाबीन के बीज, मंत्री ने दिए निर्देश

मंत्री ने निर्देश दिए कि विशेष परिस्थिति मानते हुए जिले के किसानों के लिए सोयाबीन के बीज उत्पादक समितियाँ बीज उपलब्ध कराएँ।

सोयाबीन के बीज

शाजापुर,डेस्क रिपोर्ट।  किसानों (Farmers) को अब सोयाबीन के बीज (Soybean seeds) के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। किसानों को समय पर बीज उपबल्ध करवाएं जाएंगे। इस संबंध में स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री इंदर सिंह परमार (Inder Singh Parmar)  ने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा है कि बीज प्रदाय में शाजापुर जिले (Shajapur District) को प्राथमिकता दें। वर्तमान में संग्रहित बीजों को 3 दिन में उपलब्ध कराएँ, ताकि किसानों को समय पर सोयाबीन का बीज प्राप्त हो सके।

यह भी पढ़े.. MP News: किसानों का इंतजार खत्म, 3 दिन बाद शुरु होगी समर्थन मूल्य पर मूंग की खरीदी

मंत्री इंदर सिंह परमार ने शाजापुर में बीज उत्पादक सहकारी समितियों द्वारा बीज उत्पादन के कार्यों की समीक्षा बैठक में कहा कि विशेष परिस्थिति मानते हुए जिले के किसानों के लिए सोयाबीन के बीज उत्पादक समितियाँ बीज उपलब्ध कराएँ। किसानों को सोयाबीन के स्थान पर अन्य फसलों को लगाने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए। इसके लिए कृषि विभाग (Agriculture Department) और कृषि विज्ञान केन्द्र (Krishi Vigyan Kendra) के अधिकारी गाँव-गाँव जाकर शिविर लगाएँ और किसानों को क्षेत्र की मिट्टी एवं जलवायु के अनुरूप अन्य फसलों की जानकारी दें।

यह भी पढ़े..Bank Holiday 2021: 12 से 30 जून के बीच 8 दिन बंद रहेंगे बैंक, जल्द निपटा लें काम

वही राज्य मंत्री परमार ने विभिन्न निर्माण विभागों के कार्यों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि ब्रिज निर्माण के कार्यों को समय पर पूरा नहीं करने वाले ठेकेदारों और विभागीय अधिकारियों पर कार्यवाही करें। कार्य को निर्धारित समयावधि में पूरा करें। सभी शासकीय भवनों और प्रधानमंत्री आवास योजना (Prime Minister’s Housing Scheme के तहत निर्मित आवासों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगवाएँ। पेयजल समस्या के निराकरण के लिए जलसंसाधन विभाग (Water Resources Department) एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग (Public Health Engineering Department) के अधिकारी मिलकर कार्य-योजना तैयार करें।

वेयर हाउस मालिकों को समय पर करें भुगतान- राहुल सिंह 

इसके अलावा मध्यप्रदेश वेयर-हाउस एण्ड लॉजिस्टिक कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष  राहुल सिंह (Rahul Singh, President, MP Warehouse and Logistics Corporation) ने भोपाल संभाग (Bhopal Division) के अधिकारियों की बैठक में कहा कि निजी गोदाम मालिकों के किराये का भुगतान समय पर किया जाये। भण्डारण नीति का शत-प्रतिशत पालन किया जाये। किसी भी प्रकार की कोताही पर संबंधित अधिकारी-कर्मचारी के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी।  जहाँ जरूरत हो, वहाँ पर शासकीय गोदामों की मरम्मत तत्काल करवायें।भोपाल संभाग में 52.69 लाख मीट्रिक टन मात्रा पूर्व से भण्डारित है। वर्तमान में 8 लाख मीट्रिक टन भण्डारण की क्षमता रिक्त है।