मध्यप्रदेश के शाजापुर में केवल 2 रुपये में बिका 300 किलो प्याज, पढ़ें पूरी खबर

मध्यप्रदेश के शाजापुर मंडी से इसका एक ताजा मामला सामने आया है, जहां एक नहीं, दो नहीं बल्कि पूरे 300 किलो प्याज मात्र 2 रुपए में बेचा गया

शाजापुर, डेस्क रिपोर्ट | मध्यप्रदेश के किसानों को इन दिनों भारी नुकसान झेलना पड़ रहा है। बता दें कि इसका सबसे बड़ा और मुख्य कारण कुछ दिन पहले आई प्राकृतिक आपदा है। जिसमें बहुत से फसलों का नुकसान हुआ है। इसी कड़ी में किसानों को प्याज के बहुत कम दाम मिल रहे हैं। बता दें कि प्याज इतनी कम दामों में बिक्री हो रही है कि किसानों के लाने और ले जाने का खर्च भी नहीं निकल पा रहा। इसी कड़ी में मध्यप्रदेश के शाजापुर मंडी से इसका एक ताजा मामला सामने आया है, जहां एक नहीं, दो नहीं बल्कि पूरे 300 किलो प्याज मात्र 2 रुपए में बेचा गया। जिससे किसान ने सरकार के खिलाफ काफी नाराजगी व्यक्त की है। तो आइए जानते हैं क्या है पूरा मामला…

यह भी पढ़ें – मध्यप्रदेश में ATS ने की PFI पर ताबड़तोड़ कार्रवाई, इन जिलों में हुई छापेमारी

बता दें कि किसान देवास जिले के भुदानी का रहने वाला है जो कि 22 सितंबर को प्याज लेकर शाजापुर मंडी में पहुंचा था। जहां उसे फायदे की उम्मीद थी। लेकिन, उस किसान के आश पर बूरी तरह पानी फिर गया। दरअसल, उनके द्वारा लाए गए 300 किलो प्याज को मात्र 2 रुपए में खरीदा गया। जिससे 300 किलो प्याज की कुल कीमत केवल ₹330 हुई जिसके बाद निराश के सामने बताया कि इससे उसे कितना नुकसान हुआ है क्योंकि इतने पैसे वापस जाने और आने यानी ट्रांसपोर्ट में ही निकल जाएंगे।

यह भी पढ़ें – Gold Silver Rate : सोना लुढ़का, चांदी में भी बड़ी गिरावट, ये है सराफा बाजार का हाल

दरअसल, मध्य प्रदेश में किसानों को अच्छी क्वालिटी के प्याज बेचने पर अधिकतम 12 रुपए मिल रहे हैं। उससे थोड़ी कम अच्छी क्वालिटी के प्याज पर 5 से 10 रुपए के बीच बेचे जा रहे हैं जबकि एक दम खराब क्वालिटी के प्याज को बेचने पर 4 रुपए से भी कम में बिक्री हो रही है। बता दें कि इससे कुछ दिन पहले किसानों ने सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया था। इस दौरान किसानों की शिकायत थी कि उनकी मेहनत पर उचित भाव नहीं मिल रहा है। इसी दौरान आक्रोशित किसानों ने लहसुन को बोरियों में भरकर नदी-नालों में फेंक दिया था। उस समय मध्यप्रदेश शासन के कृषि मंत्री कमल पटेल ने मामले में राहत देने का आश्वाशन भी दिया था।

यह भी पढ़ें – Relationship tips : हैप्पी रिलेशनशिप के लिए फॉलो कीजिए ये 8 रूल्स

इधर, कांग्रेस विधायक रवि जोशी ने सरकार को पर निशाना साधते हुए कहा कि, “मध्यप्रदेश का किसान प्याज लेकर मंडी में बेचने गया। सारा खर्चा काटने के बाद उसके पास बचे केवल 2 रुपए। शिवराज जी, किसानों के बारे में सोचिए…”। जिसके बाद इस मामले में सियासी हलचल भी शुरू हो गई है लेकिन इन सबके बीच किसानों को बहुत ज्यादा नुकसान झेलना पढ़ रहा है।

यह भी पढ़ें – CG Weather: बस्तर समेत कई जिलों में बारिश के आसार, 30 सितंबर से मानसून की विदाई संभव, जानें मौसम विभाग का पूर्वानुमान