200 लोगों के साथ धर्म परिवर्तन की दी चेतावनी, लगाए भेदभाव के आरोप

वाल्मीकि समाज से ताल्लुक रखने वाले इन लोगों का आरोप है कि एक युवक की 30 जनवरी 2022 को होने वाली शादी व 16 दिसम्बर को होने वाली सगाई के लिए मैरिज गार्डन देने से यह कहते हुए इंकार कर दिया कि वह लोग अछूत हैं।

शिवपुरी,शिवम पाण्डेय। जिले के पिछोर में दर्जन भर मैरिज गार्डन संचालकों पर आरोप है कि उन्होंने वाल्मीकि समाज से ताल्लुक रखने वाले एक युवक अमर पुत्र जगदीश घावरी की 30 जनवरी 2022 को होने वाली शादी व शेरसिंह की पुत्री की 16 दिसम्बर को होने वाली सगाई के लिए मैरिज गार्डन देने से यह कहते हुए इंकार कर दिया कि वह लोग अछूत हैं। अमर घावरी का कहना है कि अगर उनके हिन्दू होने के बावजूद हिन्दू ही उनसे इस तरह का व्यवहार करेंगे तो उन्हें धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर होना पड़ेगा। बकौल अमर यदि मैरिज गार्डन संचालकों के खिलाफ कार्यवाही नहीं कि गई तो वह शादी के बाद 200 लोगों के साथ धर्म परिवर्तन कर लेंगे और उन्हें ऐसा करने से कोई नहीं रोक पाएगा।

यह भी पढ़े.. दुआओं का दौर जारी, बोरवेल में गिरी बच्ची तक पहुंचा रेस्क्यू अमला

मैरिज गार्डन बुक नहीं, फिर भी किया देने इंकार –

अमर ने मामले की शिकायत एसडीएम को दर्ज कराई है, जिसमें उल्लेख किया गया है कि जब उन्होंने दूसरे समाज के लोगों से गार्डन बुक करवाने की बात संचालकों के करवाई तो वह मैरिज गार्डन बुक करने तैयार हो गए, लेकिन जब मैरिज गार्डन संचालकों को यह पता चला कि गार्डन हम लोगों की शादी के लिए बुक की जा रही है तो उन्होंने गार्डन बुक होने का बहाना बनाया जबकि रजिस्टर चेक करने पर कोई बुकिंग नहीं थी।

दूसरों के नाम पर टेंट बुक कर घर से हुई सगाई –

अमर की चचेरी बहन व शेर सिंह की बेटी की सगाई आज हुई है। अमर ने फोन पर दी जानकारी में बताया है कि उन्होंने सगाई का यह आयोजन घर पर ही दूसरों के नाम पर टेंट, पानी के कैंपर आदि बुक करके किया है। इस मामलें एसडीएम पिछोर जेपी गुप्ता का कहना है कि मुझे शिकायत मिली है, मैने शिकायत नगर परिषद सीएमओ को जांच के लिए दी है। जांच उपरांत मामले में उचित कार्यवाही की जाएगी