जमीन का फर्जीवाड़ा, नायब तहसीलदार सहित 12 के खिलाफ FIR

खनियाधाना, डेस्क रिपोर्ट। शिवपुरी जिले के खनियाधाना में नायब तहसीलदार का फर्जीवाड़ा सामने आया है। इस मामले में नाबालिग लड़की को बालिग बताकर अवैध तरीके से उसकी जमीन बेच दी गई। मामले में नायब तहसीलदार समेत सहित 12 लोगों के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज की गई है।

Datia News: सहारा कंपनी के निवेशकों ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन, रुपये वापस दिलाये जाने की मांग की

शिवपुरी जिले में न्यायालय के आदेश के बाद नायब तहसीलदार अरुण सिंह गुर्जर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। दरअसल मामला खनियाधाना की पोटा ग्राम का है जहां पर नाबालिक लड़की को उसकी पैतृक जमीन उसके नाम करा देने का लालच देकर उससे कोरे कागजातों पर केवल हस्ताक्षर करा लिए गए। बाद में नाबालिक लड़की को यह पता चला कि वह जमीन तो बेच दी गई है तो उसके पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई। नायब तहसीलदार ने लोगों से षड्यंत्र करके इस लड़की को बालिग बता दिया और फर्जी विक्रय पत्र बनाकर जमीन को बिक्री का नामांतरण भी करा दिया। जमीन रतन और पूरन सिंह नाम के व्यक्ति को बेची गई और इसी बेचने में रजिस्ट्री लेखक सहित अरुण सिंह गुर्जर व पटवारी मनोज नागर द्वारा प्रमुख भूमिका निभाई गई। लड़की ने इस पूरे मामले की शिकायत खनियाधाना थाने में की लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। उसके बाद लड़की ने न्यायालय में परिवाद दाखिल किया जिसके आधार पर नायब तहसीलदार अरुण सिंह गुर्जर समेत 12 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

जमीन का फर्जीवाड़ा, नायब तहसीलदार सहित 12 के खिलाफ FIR