शिवपुरी : एसडीएम ने नरवर क्षेत्र के स्वास्थ्य केंद्रों का किया निरीक्षण, दो झोलाछाप डॉक्टरों की दुकानें की सील

ग्राम चकरामपुर में दो झोलाछाप डॉक्टरों पर करैरा एसडीएम ने कार्यवाही करते हुए उनकी दुकानों को सील कर दिया।

शिवपुरी, शिवम पाण्डेय। मप्र (MP) में कोरोना (Corona) काल में लाचार मरीजों को झोलाछाप डॉक्टर जमकर चूना लगा रहे है, जिसके चलते प्रशासन भी इनके फर्जी क्लीनिकों पर समय-समय पर छापेमारी कर कार्यवाही करते है, शिवपुरी (Shivpuri) के ग्राम चकरामपुर में भी ऐसे ही दो झोलाछाप डॉक्टरों पर करैरा एसडीएम ने कार्यवाही करते हुए उनकी दुकानों को सील कर दिया।

यह भी पढ़ें… इंदौर : उल्लंघन करने वाले अब तक 2 हजार से ज्यादा गिरफ्तार, कही लगवाई गई मेंढक दौड़ तो कही कराई गई पीटी

करैरा एसडीएम अंकुर रवि गुप्ता ने नरवर तहसील के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नरवर, मगरोनी एवं चकरामपुर में कोविड-19 टेस्टिंग का निरीक्षण कर आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि ज्यादा से ज्यादा लोगों का कोविड-19 टेस्ट किया जाए। जिससे संक्रमित व्यक्ति की पहचान हो सके व समय पर उपचार किया जा सके। इस दौरान चकरामपुर में दो झोलाछाप चिकित्सकों रंजीत भदौरिया एवं रमेश कुशवाह की दुकानें भी सील की गई। एसडीएम अंकुर गुप्ता ने बताया कि मेडिकल टीम द्वारा नरवर, मगरोनी, चकरामपुर और करही में प्रतिदिन कोविड-19 की टेस्टिंग की जा रही है। सभी अस्वस्थ लोग कोविड-19 का परीक्षण आवश्यक रूप से करवाएं व समय पर उपचार लें। उन्होंने गांव में घर-घर दवा वितरण तथा ग्रामीणों से चर्चा कर स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी भी ली। निरीक्षण के दौरान नायब तहसीलदार किरण सिंह, राजस्व निरीक्षक डी.आर.काकोडिया, एडीओ जनपद एल.डी.वर्मा भी साथ थे।