दिल दहला देगा यह वीडियो, इलाज करने वाले ही बांट रहे मौत

शिवपुरी, डेस्क रिपोर्ट। शिवपुरी के जिला चिकित्सालय के कोविड-19 वार्ड में जो हुआ, उसे देखकर किसी का भी दिल दहल जाएगा। यहां आइसोलेशन वार्ड में भर्ती एक मरीज की मौत हो गई और इसके बाद उनके पुत्र ने गंभीर आरोप लगाए हैं कि स्टॉफ ने उनकी ऑक्सीजन की पोर्टेबल यूनिट हटा दी, जिसके बाद उन्होने दम तोड़ दिया। इसका एक सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है। इस मामले में अब सीएमएचओ ने जाँच दल गठित कर दिया है और 48 घँटे में रिपोर्ट मांगी है।

ये भी देखिये – दिल्ली में कोरोना की बेकाबू रफ्तार, 24 घंटे में आंकड़ा 17 हजार के पार

पिछोर निवासी एक व्यक्ति शिवपुरी के जिला चिकित्सालय के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती थे। उनकी मौत के बाद उनके पुत्र दीपक ने गंभीर आरोप लगाए हैं कि स्टॉफ ने मरीज की ऑक्सीजन की पोर्टेबल यूनिट हटा दी  इसका सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है जिसमें कोई वार्ड बॉय मरीज की ऑक्सीजन यूनिट हटाते दिखाई दे रहा है, जिसके बाद मरीज ने तड़पना शुरू कर दिया और कुछ घंटे बाद ही उसकी मौत हो गयी। मरीज की मौत होने के बाद परिजन जमकर हंगामा कर रहे हैं। उनका कहना है कि मरीज की मौत ऑक्सीजन की कमी के चलते हुई है।

कोरोना संक्रमित सुरेंद्र शर्मा की बीती रात जिला चिकित्सालय में कोविड-19 मौत हो गई। उनके बेटे दीपक का गंभीर आरोप है कि पिता कोविड के जनरल वार्ड मे भर्ती थे। रात 11 बजे उनका ऑक्सीजन सपोर्ट हटा दिया गया था जिसके कारण उनका ऑक्सीजन सैचुरेशन नीचे चला गया। हालत बिगड़ती गई और सुबह जब बेटे को पता चला व उसने हंगामा किया तब उनको आईसीयू मे भर्ती करने की औपचारिकता की गयी। बेटा खुद पिता को पीठ पर लादकर आईसीयू में ले गया लेकिन थोड़ी देर बाद मरीज की मौत हो गई। इस मामले के सामने आने के बाद बीजेपी के प्रवक्ता धैर्वयर्धन शर्मा भी घटनास्थल पर पहुंचे हैं और उन्होंने इस पूरी लापरवाही से सीएमएचओ और मेडिकल कॉलेज के डीन को अवगत कराया। हंगामा होने के बाद सीएमएचओ ने जाँच दल गठित किया है और 48 घँटे में मामले की रिपोर्ट मांगी है।