अधीक्षिका सोती रहीं, दो नाबालिग चाबी चुराकर फरार, ग्वालियर से गिरफ्तार

दोनों नाबालिगों को महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों के आमने पेश किया जायेगा।

मुरैना, संजय दीक्षित।  मुरैना के स्टेशन थाना क्षेत्र के बड़ोखर में स्थित सुधार गृह से दो नाबालिग बालिकाएं (two minor girls) फरार हो गयी, दोनों नाबालिगों ने सुधार गृह की अधीक्षका के गहरी नींद में सोने का फायदा उठाया, चाबी चुराई और मुख्य द्वार  खोलकर फरार हो गयी। बाद में पुलिस ने उन्हें ग्वालियर से गिरफ्तार कर लिया ।

मुरैना शहर के बड़ोखर रोड पर स्थित महिला सुधार गृह में बंद दो नाबालिग बालिकाएं मंगलवार सुबह उस समय फरार हो गयी जब सुधार गृह की अधीक्षिका गहरी नींद में सो रहीं थी। दोनों ने अधीक्षिका सुनीता कुशवाहा के गहरी नींद में सोने का फायदा उठाया, चाबी चुराई और मुख्य द्वार खोलकर फरार हो गयी। दोनों पिछले पांच माह से सुधार गृह में रह रही थी। दोनों के माता पिता ने घर पर रखने से इंकार कर दिया था। जिसकी वजह से उनको सुधार गृह में रखा गया था, इसमें एक नाबालिग बानमौर की बताई गई है तथा दूसरी भिंड की बताई गई है।

ये भी पढ़ें – अंबेडकर की रंगोली को लेकर हंगामा, ओबीसी महासभा ने किया चक्का जाम

नाबालिग बालिकाओं के भागने की खबर लगते ही सुधार गृह में हड़कंप मच गया, अधीक्षिका ने वरिष्ठ अधिकारियों को सुचना देने के बाद पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने खोजबीन करते हुए दोनों बालिकाओं को ग्वालियर में जनकगंज थाना क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया है। जल्द ही दोनों को महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों समक्ष पेश किया जाएगा।

ये भी पढ़ें – नही सुनी छात्रा की गुहार ! पुलिस पर उठे सवाल

इस मामले में थाना प्रभारी आशीष राजपूत का कहना है कि जैसे ही नाबालिगों के भागने की खबर लगी तुरंत पुलिस ने चारों तरफ से नाकाबंदी करते हुए उनकी खोजबीन शुरू कर दी और और दोनों को जनकगंज ग्वालियर से गिरफ्तार कर लिया है। दोनों को महिला एवं बाल विकास विभाग के समक्ष पेश करने के बाद सुधार गृह में वापस भेजा जाएगा।

अधीक्षिका सोती रहीं, दो नाबालिग चाबी चुराकर फरार, ग्वालियर से गिरफ्तार