उज्जैन में लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, पंचायत सचिव रंगे हाथ रिश्वत लेते गिरफ्तार

Ujjain News: उज्जैन में लोकायुक्त (Lokayukta) पुलिस ने एक बड़ी कार्रवाई की है। ग्राम कड़छा के सचिव को 6000 रुपए की रिश्वत (Bribe) लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। किसान की शिकायत के आधार पर विभाग की ओर से इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया है।

नरवर थाना क्षेत्र के अंतर्गत रहने वाले किसान विजय जाट ने 27 दिसंबर को लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक उज्जैन को शिकायत दर्ज करवाते हुए बताया कि उसने खेत में फोरलेन बनाने वाली कंपनी को खेत समतल करने के लिए संपर्क करते हुए अनुबंध किया था। इसके लिए शासकीय अनुमति की जरूरत थी। एनओसी लेने के लिए जब वह ग्राम कड़छा के सचिव के पास पहुंचा तो उससे 6000 रुपए की रिश्वत की मांग की गई।

इस मामले में किसान ने लोकायुक्त को शिकायत दर्ज करवाई। सचिव ने किसान को रिश्वत लेने के लिए नरवर के पास बुलाया था जहां पर कार्रवाई करते हुए उसे पकड़ लिया गया। लोकायुक्त निरीक्षक दीपक शेजवार के मुताबिक शिकायत को गंभीरता से लेते हुए आवेदक विजय जाट और सचिव राकेश सोनगरा के बीच हुई बातचीत की वॉयस रिकॉर्डिंग भी की गई थी। जांच पड़ताल में जब शिकायत सही पाई गई तो आरोपी को नरवर के एक रेस्टोरेंट के पास बने तिराहे से रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबोच लिया गया।

पहले मांगे थे 20 हजार

जानकारी के मुताबिक सचिव ने किसान से एनओसी देने के लिए 20 हजार की मांग की थी। किसान ने अपनी मजबूरी बताई तो सचिव ने 10,000 देने की बात कही। यह सिलसिला चलता रहा और फिर 6000 रुपए में एनओसी देने की बात तय हो गई। यह भी बताया गया है कि सरपंच ने तो एनओसी पर साइन कर दिए थे लेकिन सचिव रिश्वत मांग रहा था।