महाकाल मंदिर में महिला के डांस पर बवाल, अब वीडियो जारी कर मांगी माफी

बवाल के बाद महिला ने कार्रवाई के डर से पहले तो अपने दोनों वीडियो डिलीट किये और बाद में एक वीडियो जारी कर सफाई दी और माफी मांगी।

mahakal viral video

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। एक अज्ञात महिला द्वारा उज्जैन (Ujjain) स्थित महाकाल मंदिर (Mahakaleshwar Jyotirlinga) परिसर में प्राचीन खंबो को केंद्र बनाकर डांस किया गया…जिसका वीडियो (Video) सोशल मीडिया पर जमकर वायरल (Viral) हो रहा है, वहीं इस पर महाकाल मंदिर के पुजारियों ने कड़ी आपत्ति जताई है। मामले में महाकाल मंदिर प्रशासक ने जांच की बात कही है।

यह भी पढ़ें…अनोखा तप : नवरात्रि में अपनी मनोकामना लेकर देवीभक्त ने शरीर पर बोया ज्वारा

जानकारी के अनुसार जिस महिला का यह वीडियो है उसका नाम मनीषा रोशन बताया जा रहा है, जो इंदौर (Indore) की रहने वाली है। महिला ने अपने इंस्टाग्राम पर “रग-रग में इस तरह तू समाने लगा” फिल्मी गाने पर एक रील बनाई थी। महिला ने वीडियो महाकाल मंदिर परिषद में स्थित ओमकारेश्वर मंदिर प्रांगण में प्राचीन खंबो पर यह शूट किया था और उसे इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया था जिसके बाद इस पर बवाल हो गया।

महिला ने वीडियो जारी कर मांगी माफी
गौरतलब है कि शनिवार को महिला द्वारा महाकाल मंदिर परिसर में डांस किया गया था तथा मामले ने जब तूल पकड़ा, तो कानूनी कार्रवाई हेतु उक्त महिला को ट्रेस कर लेटर तक जारी किया गया, जिसके बाद महिला ने कार्रवाई के डर से पहले तो अपने दोनों वीडियो डिलीट किये और बाद में एक वीडियो जारी कर सफाई दी और माफी मांगी।

वहीं सोचने वाली बात है कि मंदिर परिसर में पुलिस ,महिला तथा पुरुष सुरक्षाकर्मी भी मौजूद रहते हैं परंतु इस तरह का डांस उन्हें नजर क्यों नहीं आया…? या शायद वे भी रोकने के बजाय मूकदर्शक बनकर नृत्य देखने में लगें थे। इस तरह के मामले इंदौर में भी सामने आ चुके है।

इस तरह के मामले पहले भी आ चुके है सामने
आपको बता दें कि पहले भी इस तरह के मामले इंदौर में सामने आ चुके है। इंदौर में बीच चौराहे पर ट्रैफिक सिग्नल पर डांस व स्टंट करने का एक और वीडियो सामने आया था। डांसिग गर्ल के वीडियो के बाद जम्पिंग बॉय का वीडियो वायरल हुआ था..बाद में लड़की ने माफी मांगी थी। बता दें कि दोनों वीडियो सामने आने के बाद गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा (Home Minister Narottam Mishra) ने जांच कर कार्रवाई के आदेश दिए थे। इसके बाद पुलिस ने दोनों के खिलाफ धारा 290 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। अब उज्जैन में इस तरह के वाकये पर देखना होगा कि इस पर क्या कदम उठाए जाएंगे।

यह भी पढ़ें… अवैध उत्खनन जोरों पर, आए दिन हो रही दुर्घटनाएं फिर भी प्रशासन मौन !