ऑनलाइन गेमिंग की लत में छात्र बना किडनैपर, 50 हजार के लिए खुद के अपहरण की रची साजिश

ऑनलाइन गेमिंग में पैसे हारने के बाद छात्र ने खुद को किडनैपिंग की साजिश रची।

indore Crime News

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। बीते दिन ही उज्जैन (Ujjain) के कंचनपुरा इलाके से गायब हुआ एक स्टूडेंट नागदा के पास एक रेलवे स्टेशन से अर्धनग्न अवस्था में हाथ पैर बंधी हालत में मिला था। 50 हजार रुपए के पीछे इस युवक की किडनैपिंग की गई थी। लेकिन अब इस मामले में हैरान कर देने वाला खुलासा सामने आया है। दरअसल गेमिंग की लत का शिकार हुए इस युवक ने खुद ही अपनी किडनैपिंग की प्लानिंग की थी।

उज्जैन में रहकर बीए की पढ़ाई के साथ आर्मी की तैयारी कर रहा ये स्टूडेंट गेम खेलते समय 50 हजार रूपए हार गया था। पैसे चुकाने के लिए उसने किडनैपिंग का प्लान बनाकर घरवालों से पैसा लेने की साजिश बनाई। उसने यूट्यूब से फेक कॉलिंग करना सीखा और फोन कर फिरौती मांगी। पुलिस की जांच पड़ताल के बाद पूरे मामले का खुलासा हुआ।

Must Read- भैंस ने दिया जुड़वा बच्चों को जन्म, सुनने वाला हर कोई हैरान

13 अक्टूबर को नितेश अचानक से ही लापता हो गया था। फिर उसके भाई के नंबर पर इंटरनेशनल नंबर से यह मैसेज आया कि नितेश का अपहरण कर लिया गया है और अगर उसके अकाउंट में 50 हजार नहीं डाले तो उसे मार देंगे। यह देखकर घर वालों ने नितेश के खाते में पैसे डाल दिए। इसके बाद भी जब वह घर नहीं पहुंचा तो परिजनों ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई।

पुलिस केस की छानबीन कर ही रही थी तभी संदिग्ध परिस्थितियों में यह छात्र रेलवे स्टेशन पर मिला। जांच पड़ताल में यह सामने आया कि नितेश के खाते में जो पैसे ट्रांसफर किए गए थे वह गेमिंग पोर्टल में ट्रांसफर हो रहे थे। शक होने पर जब पुलिस ने पूछताछ की तो यह पता लगा कि नितेश ऑनलाइन गेमिंग का शौक रखता है। सख्ती से पूछताछ करने पर उसने सारा मामला पुलिस को बता दिया।

नितेश पढ़ने लिखने में बहुत अच्छा है और आगे चलकर देश की सेवा करना चाहता था। पढ़ने के लिए और आर्मी की तैयारी करने के लिए उज्जैन आया था। इसी बीच उसे LULUMALLS VIP नामक गेम खेलने की लत लग गई। इस गेम में पैसा डबल होने का झांसा दिया जाता है। पहले तो नितेश इस गेम से पैसे जीतता रहा लेकिन हार जीत के इस खेल में एक दिन वह 72000 रुपए हार गया।

हार जाने के बाद जब उसे कोई रास्ता नहीं मिला तो उसने खुद की किडनैपिंग की साजिश रची और यूट्यूब से फेक कॉल करने का तरीका खोज कर इंटरनेशनल नंबर से व्हाट्सएप कॉलिंग करते हुए फिरौती की मांग की। नितेश ने पुलिस को यह भी बताया है कि टेलीग्राम के जरिए भी यह गेम खेला जाता है। 10 रुपए में कोई भी अपना अकाउंट बना सकता है और कितने भी रुपए का गेम खेल सकता है।