उज्जैन: एडिशनल एसपी और एडीएम ने बेवजह घूमने वालों को बांटे बेशरम के पौधे   

मंडी चौराहे पर बेशर्म लोगो के लिए बेशरम के पौधे गिफ्ट कर रहे अधिकारी भी कह रहे है की लोग है की मानने को तैयार नहीं है। लेकिन जब उनसे कारण पूछा तो नए नए बहाने बनाने लग जाते है। ऐसे ही कई लोग थे जो 10 बजे बाद भी घूम रहे थे।

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। उज्जैन में लाकडाउन के दौरान बेवजह घर से बाहर निकलने वालो पर उनकी बेशर्मी का अहसास करवाने के लिए  जिला प्रशासन और पुलिस विभाग ने नायब  तरिका खोज निकाला और अनोखे अंदाज में  बेवजह घूमने वालो को बेशरम का पौधा गिफ्ट दे दिया।  जैसे ही अधिकारियो  ने लोगो को पौधा दिया तो शायद लोगो को भी अपनी गलती का अहसास हुआ और कुछ लोग जंहा नए नए बहाने बनाने लगे वंही कुछ लोग पौधा लेने से इंकार करने लगे।  लेकिन अधिकारियों ने जबरन बेशरम के पौधे लोगो को पकड़ा ही दिए। इस अनोखी  कार्यवाही से जंहा आम लोग लज्जित होते  अपनी गलती मान रहे थे। बेशर्म लोगो के लिए ये बेशरम का पौधा उन्हें उनकी बेशर्मी का अहसास कराने के लिए काफी थे

युवाओ में बांटे सबसे ज्यादा बेशरम के पौधे 

दरअसल दो दिनों से बेवजह  शहर में घूमने वालो पर  कार्यवाही की जा रही है इसके बावजूद भी लोग है की मानाने को तैयार नहीं है ऐसे में  मंडी गेट चौराहे पर एडिशनल एसपी और एडीएम नरेंद्र सूर्यवंशी ने  चेकिंग पॉइंट लगा दिया और अनोखे तरीके से आम लोगो पर कार्यवाही को अंजाम दिया जिसमे उन्होंने आवाजाही कर रहे लोगो से बाहर निकलने का कारण पूछा।

Read More: कोरोना से जिंदगी की जंग हारे SI, राजधानी में 70 से अधिक पुलिसकर्मी संक्रमित

जब कारण बेवजह लगा तब एडिशनल एसपी अमरेंद्र सिंह और एडीएम नरेंद्र सूर्यवंशी ने बेवजह निकलने वालो को बेशरम के पौधे गिफ्ट दे दिए। इनमे सबसे बड़ी संख्या युवाओ की थी जो बेवजह ही शहर में निकलकर बाहर घूम रहे थे। पकड़ाने पर माफ़ी मांगने लगे और जब पुलिस ने पौधे गिफ्ट में मिले तो उसे लेने से इंकार करते हुए आगे से गलती नहीं दोहराने की बात कहने लगे।

कई लोगो ने नहीं लिए पौधे  

मंडी चौराहे पर बेशर्म लोगो के लिए बेशरम के पौधे गिफ्ट कर रहे अधिकारी भी कह रहे है की लोग है की मानने को तैयार नहीं है। लेकिन जब उनसे कारण पूछा तो नए नए बहाने बनाने लग जाते है। ऐसे ही कई लोग थे जो 10 बजे बाद भी घूम रहे थे। जिसमे अपने परिवार के साथ घूम रहा एक आदमी, एक दूध वाला, 20 से अधिक युवा और युवतिया भी काम नहीं इस मामले में। आपको बता दे उज्जैन कलेक्टर ने कल से ही सब्जी दूध पेट्रोल पम्प किराना सहित फल व्यसायियों के लिए समय सुबह 6 बजे से 10 बजे तक का कर दिया था लेकिन लोग इसके बावजूद 10 बजे बाद शहरों में घूमते नजर आये तो पुलिस ने बेशरम के पौधे बाँट दिए ।