Morena : प्रशासन सत्ता के दबाव में कार्य न करें – विजेन्द्र सिंह राठौड़

administration should not worry about government

मुरैना, संजय दीक्षित। कमलनाथ की सरकार (kamalnath government) विकास को लेकर प्रदेश में काम कर रही थी, कुछ लोगों ने मिलकर सदस्यों की खरीद फरोक्त की और सरकार को गिरा दिया। जिससे लोकतंत्र (democarcy) भी शर्मसार हो गया। यह बात मुरैना (Morena) के सुमावली विधानसभा के प्रभारी पूर्व मंत्री विजेन्द्र सिंह राठौड़ (Former Minister in charge Vijendra Singh Rathore) ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए कही।

ये भी पढ़े- कमल पटेल का तंज- कमलनाथ को विलेन और राहुल को मिल सकता है कार्टून का रोल

पूर्व मंत्री ने कहा कि जनता इस बात को समझ चुकी है कि इन्होंने सरकार को किस स्थिति में गिराया हैं। सिर्फ एक महीने की बात है सरकार पुन: लौटकर आयेगी। पूर्व मंत्री राठौर ने प्रशासन (administration) के लोगों पर आरोप लगाते हुए कहा है कि कांग्रेस के लोगों के वाहन रोक दिये जाते हैं उनके लिए तमाम नियम कानून बताये जा रहे हैं, सरेआम पक्षपात किया जा रहा है।

प्रशासन (administration) के अधिकारियों और कर्मचारियों से कहना चाहता हूं कि वो सत्ता का चश्मा उतार दें और निष्पक्ष काम करें। हालांकि कांग्रेस (congress) ने निर्वाचन आयोग (election commission) को इस आशय की शिकायत भी की है। लेकिन फिर भी इन लोगों को ये समक्ष लेना चाहिए कि आगामी एक महीने के बाद कांग्रेस सरकार में होगी और फिर उन अधिकारियों को जबाब देना मुश्किल होगा।

ये भी पढ़े- रामेश्वर शर्मा के विरोध में नारेबाजी, दिखाए गए काले झंडे

इस अवसर पर मुरैना (Morena) के सुमावली विधानसभा क्षेत्र के प्रत्याशी (Sumawali Assembly candidates) अजब सिंह कुशवाह ने कहा कि मैं जो शपथ पत्र दूंगा उसमें अपराधों का भी उल्लेख होगा किसी के आरोप लगाने से कोई फर्क नहीं पडता। उनके कई ऑडियो वायरल हो रहे हैं समाज के लोगों पर भी जो बातें आ रही है वो सबके सामने हैं उन्होंने कहा कि मैं जनता को भरोसा दिलाना चाहता हूं कि जनता ने अगर सेवा का मौका दिया तो मैं नि:स्वार्थभाव से सेवा करूंगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here