डीएफओ ने दिया ये सुझाव तो कलेक्टर ने कहा ऐसा नियम हो तो बताएं 

मुरैना, संजय दीक्षित। कलेक्ट्रेट सभागार (Collectorate auditorium) में आयोजित टास्क फ़ोर्स (Task force) की बैठक में रेत से अवैध खनन और परिवहन (Illegal mining and transportation) को प्रभावी तरीके से रोकने के लिए  जिला वन मंडल अधिकारी अमित निकम (District Forest Division Officer Amit Nikam) ने नया सुझाव दिया है।  डीएफओ ने कहा कि सेंचुरी क्षेत्र के 10 किलोमीटर के दायरे में नए सस्त्र लाइसेंस जारी न किए जाएं। इस पर कलेक्टर व एसपी ने कहा कि ऐसे कोई निर्देश या नियम हो तो हमें प्रस्तुत करके बताएं।

कलेक्टर अनुराग वर्मा (Collector Anurag Varma) और पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया (Superintendent of Police Anurag Sujania) के साथ जिला स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन नवीन कलेक्टर कार्यालय भवन में किया गया। पिछली बैठक के पालन प्रतिवेदन पर भी चर्चा की गई। जिला खनिज अधिकारी ने बैठक का एजेंडा प्रस्तुत किया । कलेक्टर श्री वर्मा ने वन विभाग को राजघाट व अन्य स्थानों पर रेत के अवैध खनन को रोकने के लिए योजना बनाकर प्रभावी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। जिला खनिज अधिकारी ने स्वीकृत खदानों की सूची वन मण्डल अधिकारी(डीएफओ ) मुरैना को उनके द्वारा मांगने पर दी। जिससे आगे अवैध उत्खनन एवं भंडारण पर सयुंक्त कार्रवाई करने में आसानी हो। जिले में अवैध उत्खनन परिवहन, भंडारण पर जिला स्तरीय टास्क फोर्स की टीम ने सख्त कार्यवाही करने का निर्णय लिया। इस कार्रवाई के प्रभारी वन मंडल अधिकारी होंगे। खनिजों के परिवहन में लगे वाहनों पर पंजीयन नंबर अंकित कराने के लिए जिला परिवहन अधिकारी को भी निर्देश दिए गए हैं।इसमें जिला वन मंडल अधिकारी अमित निकम, अनुविभागीय अधिकारी आर एस बाकना ,जिला परिवहन अधिकारी अर्चना परिहार, जिला खनिज अधिकारी, एसडीओ राष्ट्रीय चंबल अभ्यारण देवरी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here