कलेक्टर की प्यारी ‘लूसी’ के शाही ठाट, सुरक्षाकर्मी देते हैं पहरा

3360

मुरैना।  मध्य प्रदेश में जहां एक ओर कानून व्यवस्था पर सवाल उठ रहे हैं वहीं दूसरी ओर प्रदेश के एक जिले की कलेक्टर के पालतुओं की निगरानी में दिन रात जवान तैनात हैं। हम बात कर रहे हैं मुरैना जिला कलेक्टर  प्रियंका दास की। वह एनिमल लवर हैं और उन्हें अपने पालतु जानवरों से बेहद लगाव है। यही कारण है कि उनकी कुतिया की सुरक्षा में 24 घंटे दो पुलिस जवान पहरा देते हैं। उनके इस रवैये पर अब सवाल उठ रहे हैं। एक तरह शहर में क्राइम को देखते हुए लोगों में सुरक्षा का अभाव है वहीं दूसरी ओर कलेक्टर के पालतु की सेवा में पुलिस तैनात है। 

दरअसल, कलेक्टर सहिबा आज कल  घड़ियाल केन्द्र में बने रेस्ट हाउस में रुकी हैं। उनके साथ उनकी खास कुतिया ‘लूसी’ भी है। रेस्ट हाउस में बीएसएफ का ट्रेंड कुत्ता भी मौजूद है। इसका नाम शेरा बताया जा रहा है। वन विभाग शेरा को एक अलग कमरे में रखा रहा है। खबर है कि ऐसा कलेक्टर को देख कर ही किया गया है। मैडम के आगे किसी की एक नहीं चलती है न ही किसी की इतनी हिम्मत है कि कोई उनके पालतु को अकेला छोड़ दे। जब वन विभाग के कर्मियों ने ये नजारा देखा तो उन्होंने भी अपने ‘शेरा’ को पुख्ता सुरक्षा देने का मन बना लिया। 

इसलिए शेरा को भी एक अलग कमरे में रखा जा रहा है और उसकी भी निगरानी में वनकर्मी लगे हैं। वहीं मीडिया ने जब इस संबंध में वन अफसर से सवाल किए तो उन्होंने कहा कि पर्यटकों की सुरक्षा के चलते बीएसएफ के कुत्ते को कैद कर के रखा गया है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here