Video viral: यहां भाजपा प्रत्याशी को ग्रामीणों ने सुनाई खरी खोटी, उल्टे पांव लौटे

मध्य प्रदेश में 28 विधानसभा सीटों पर मतदान में कुछ ही समय शेष रह गया है। इसके बाद उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम मशीन में बंद हो जाएगा।

शिवपुरी, मोनू प्रधान। मध्य प्रदेश (madhya pradesh) में 28 विधानसभा सीटों पर मतदान में कुछ ही समय शेष रह गया है। इसके बाद उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला ईवीएम मशीन में बंद हो जाएगा। उपचुनाव में मतदान के दौरान हिंसा और झड़प के साथ ही चुनाव बहिष्कार और उम्मीदवारों के विरोध के खबरें भी सामने आई है। शिवपुरी के पोहरी में भी स्थानीय ग्रामीणों ने भाजपा (bjp) प्रत्याशी का विरोध किया, जिसके बाद उन्हेें उल्टे पैर लौटना पड़ा।

शिवपुरी जिले के पोहरी विधानसभा क्षेत्र में बीजेपी उम्मीदवार सुरेश राठखेड़ा (Suresh Rathkheda) को वोटिंग के दिन ग्रामीणों का भारी विरोध झेलना पड़ा। राठखेड़ा मतदान का जायजा लेने ऐंसवाया गांव पहुंचे थे, जहां ग्रामीणों ने उन्हें खूब खरी-खोटी सुनाई। गांव वालों ने ऐंसवाया में विकास कार्यों की कमी का हवाला देते हुए राठखेड़ा पर आरोप लगाए जिसका वीडियो अब वायरल हो रहा है। हालत यह हो गई कि बीजेपी प्रत्याशी को जल्दी-जल्दी गांव से बाहर निकलना पड़ा। वीडियों में ग्रामीण कह रहा है कि यहां रोड का पता नहीं है। आप क्षेत्र में घूमे नही है तो आपको क्या पता होगा। वहीं ग्रामीण की नाराजगी को देखते हुए भाजपा प्रत्याशी सुरेश राठखेड़ा ‘नहीं बना है, चलो हम बना देंगे बोल कर वहां से निकल गए। अब यह वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

गौरतलब है कि उपचुनाव में कई जगहों पर विकास कार्यों को लेकर ग्रामीणों ने बहिष्कार किया है। मांधाता के सिंधखेड़ा गांव में भी आदिवासी महिलाओं ने भाजपा नेताओं को खरी खोटी सुना दी थी। भाजपा सांसद नंद कुमार चौहान (nand kumar singh couhan) को फोन करने पर महिलाओं का गुस्सा उन पर फूट पड़ा। आदिवासी महिलाओं स्थानीय समस्याओं को लेकर नाराज थी। वहीं सांची विधानसभा क्षेत्र के देवरीगढ़ी गांव में भी ग्रामीणों ने उपचुनाव का बहिष्कार किया। ग्रामीणों ने लाइट नही तो वोट नही की नारेबाजी करते हुए चुनाव के बहिष्कार का निर्णय लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here