कर्मचारियों को फिर मिलेगी 2 बड़ी गुड न्यूज! 70000 तक बढ़ेगी सैलरी, जानें कैसे?

3.68 होने पर सैलरी 95,680 रुपये (26000X3.68 = 95,680) हो जाएगी यानि सैलरी में 49,420 रुपए लाभ मिलेगा।अगर इसे बढ़ाकर 3 किया जाता है तो बेसिक सैलरी 21000 रुपए होगी।

FITMENT FACTOR

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। 7th pay commission: केंद्रीय कर्मचारियों (Central government employees) को मई में बढ़े हुए 34% महंगाई भत्ते 3 महीने के एरियर का लाभ मिलेगा, जिससे सैलरी में बड़ा उछाल आएगा। वही डीए के बाद अब कर्मचारियों को जल्द 2 और खुशखबरी मिल सकती है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, केन्द्र की मोदी सरकार अब केंद्रीय कर्मचारियों के फिटमेंट फैक्टर और हाउस रेंट अलाउंस पर पर फैसला ले सकती है।अगर ऐसा हुआ तो सैलरी में करीब 70 हजार का फायदा होगा।हालांकि यह बढ़ोतरी कब होगी यह अभी तय नहीं है, ना ही कोई इसकी अधिकारिकत पुष्टि की गई है।

यह भी पढ़े.. MP सहकारिता चुनाव कार्यक्रम घोषित, 3500 सहकारी संस्थाओं में होंगे मतदान, चुने जाएंगे अध्यक्ष-उपाध्यक्ष

दरअसल, केन्द्रीय कर्मचारियों की सैलरी में फिटमेंट फैक्टर का अहम रोल होता है, इसके कारण ही वेतन में ढाई गुना से अधिक की बढ़ोतरी होती है। लंबे समय से केन्द्रीय कर्मचारी फिटमेंट फैक्टर (Fitment Factor 3.68 hike) को 2.57 गुना से बढ़ाकर 3.68 गुना करने की मांग कर रहे हैं, ताकी बेसिक सैलरी में बढ़ोतरी हो सके। माना जा रहा है कि डीए के बाद अब मोदी सरकार फिटमेंट फैक्टर को बढ़ाने का भी विचार कर सकती है। अगर फिटमेंट फैक्टर बढ़ा तो बेसिक सैलरी 18000 से सीधे 26000 हो जाएगी।इससे कर्मचारियों के मूल वेतन में वृद्धि होगी और करीब 52 लाख कर्मचारियों को फायदा मिलेगा।

बता दे कि आखिरी बार साल 2016 में फिटमेंट फैक्टर को बढ़ाया गया था और करीब 12 हजार की बढ़ोतरी की गई थी। इसी साल 7वां वेतन आयोग भी लागू हुआ था, उस समय कर्मचारियों की न्यूनतम सैलरी 6000 रुपये से सीधे 18,000 रुपये हो गई थी, ऐसे में महंगाई भत्ता 34% होने पर फिटमेंट फैक्टर के भी बढने की संभावना बढ़ गई है, माना जा रहा है कि अब सरकार इस साल केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में फिर बढ़ोतरी कर सकती है। वही खबर आ रही है कि सरकार नया फॉर्मूला लाने की भी तैयारी में है, जिससे समय समय पर कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाई जा सके ।

यह भी पढ़े.. PM Kisan: 11वीं किस्त पर आई बड़ी अपडेट, स्टेटस पर द‍िख रहा ये मैसेज तो जल्द मिलेंगे पैसे

कर्मचारी की बेसिक सैलरी को 7वें वेतन आयोग के फिटमेंट फैक्टर 2.57 से गुणा करके निकाला जाता है। अगर फिटमेंट फैक्टर को 2.57 गुना से बढ़ाकर 3.68 गुना किया जाता है तो बेसिक सैलरी में 8000 का लाभ मिलेगा और यह 26000 हो जाएगी।यदि मोदी सरकार(Modi Government) केंद्रीय कर्मचारियों का फिटमेंट फैक्टर बढ़ाती है तो भत्तों को छोड़कर उसकी सैलरी 18,000 X 2.57= 46,260 रुपए का लाभ होगा। 3.68 होने पर सैलरी 95,680 रुपये (26000X3.68 = 95,680) हो जाएगी यानि सैलरी में 49,420 रुपए लाभ मिलेगा।अगर इसे बढ़ाकर 3 किया जाता है तो बेसिक सैलरी 21000 रुपए होगी।

इसके अलावा DA के बाद अब हाउस रेंट अलाउंस ((House Rent Allowance-HRA) में भी इजाफा हो सकता है। वर्तमान में केन्द्रीय कर्मचारियों को 27%, 18% और 9% की दर से HRA मिल रहा है और अब इसे फिर 3% वृद्धि की जा सकती है, जिसके बाद HRA की अधिकतम मौजूदा दर 27% से बढ़कर 30% हो जाएगी और सैलरी में 20000 रुपए का फायदा मिलेगा। साल 2021 जुलाई में DA के 25% पार होने पर HRA को रिवाइज किया गया था और DA 25% से बढ़कर 28 फीसदी कर दिया था ।अब चुंकी महंगाई भत्ता 34% हो गया है तब माना जा रहा है कि HRA में फिर इजाफा किया जा सकता है।वही  ट्रैवल अलाउंस (Travel Allowance), प्रोविडेंट फंड (Provident Fund) और ग्रेच्युटी (Gratuity) का लाभ भी मिल सकता है।

HRA का पूरा कैलकुलेशन

  • X श्रेणी के कर्मचारियों के HRA में 3, Y श्रेणी कर्मचारियों के HRA में 2 फीसदी और Z श्रेणी के लिए 1 फीसदी एचआरए बढ़ाया जा सकता है।
  • 7th Pay Matrix के हिसाब से कर्मचारियों की अधिकतम बेसिक सैलरी 56,900 रुपए है तो HRA 27 फीसदी होने पर सैलरी में 20000 का लाभ होगा।
  • हाउस रेंट अलाउंस 56900 रुपए x 27/100= 15363 रुपए महीना है तो 30% HRA होने पर 56,900 रुपए x 30/100= 17,070 रुपए महीना हो जाएगा यानि कुल अंतर: 1707 रुपए महीना होगा।सालाना HRA में 20,484 रुपए वृद्धि होगी।
  • वर्तमान में X श्रेणी के कर्मचारियों को बेसिक वेतन के 27 फीसदी, Y केटेगरी को 18 से 20 फीसदी और Z केटेगरी को 9 से 10 फीसदी की दर से एचआरए मिलता है।
  • ये दर एरिया और शहर के हिसाब से अलग-अलग होती है, फिलहाल तीनों कैटेगरी के लिए मिनिमम HRA 5400, 3600 और 1800 रुपए हैं।